इन्हें भी जरुर पढ़ें ➜
Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Parhej

ग्रीन कॉफ़ी के 14 लाभ हानि green Coffee side Effects in hindi nuksan hani loss

green coffee side effects in hindi – green coffee side effects in hindi – ग्रीन कॉफ़ी के लाभ green coffee benefits in hindi – ग्रीन कॉफ़ी के नुकसान – green coffee benefits in hindi – Green Coffee Side Effects in Hindi || ग्रीन कॉफ़ी के लाभ हानि nuksan hani loss = Green Coffee Side Effects in Hindi || ग्रीन कॉफ़ी के लाभ हानि nuksan hani loss
green coffee side effects in hindi ग्रीन कॉफ़ी के लाभ हानि green coffee benefits

 

  • green coffee side effects in hindi ग्रीन कॉफ़ी के लाभ हानि green coffee benefits

 

  • सामान्य कॉफ़ी और ग्रीन कॉफ़ी में काफी अंतर होता है. इस लेख में हम ग्रीन कॉफी के लाभ और
    साइड इफेक्ट के बारे में जानेंगे. हम यह भी जानेंगे कि ग्रीन कॉफी का हमारी सेहत पर क्या असर पड़ता है.
    हम यह भी जानेंगे कि ग्रीन कॉफी का गर्भावस्था में क्या प्रभाव होता है. इस लेख में हम यह भी जानेंगे कि
    किसे कितनी मात्रा में ग्रीन कॉफ़ी पीनी चाहिए. हम ग्रीन कॉफी से जुड़ी और भी कई छोटी बड़ी बातें जानेंगे.
    कॉफी के लाभ या नुकसान:
  • अगर कोई गर्भवती महिला बहुत ज्यादा कॉफी पीती है, सिर दर्द, बेचैनी जी मचलना जैसी परेशानियों का
    सामना करना पड़ सकता है.
  • आपको गर्भावस्था में कितनी मात्रा में कॉफी का सेवन करना है, इसके लिए आपको अपने
    डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए.
  • यह टाइप टू डायबिटीज को कंट्रोल करता है.

  • अगर आपको बहुत ज्यादा भूख लगती है और आप इसे नियंत्रित करना चाहते हैं,
    तो आपको ग्रीन कॉफी पीनी चाहिए.
  • ग्रीन कॉफी शरीर का मेटाबॉलिज्म बढ़ाता है और अनचाही चर्बी को कम करता है.
  • अगर आप ग्रीन कॉफी का सेवन नियमित करते हैं, तो यह आपकी आहार नली में शुगर की मात्रा कम कर देता है.
  • यह कैंसर को भी बढ़ने से रोकता है.
  • Green tea कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकता है.
  • यह हमें दिनभर ऊर्जावान बनाए रखने में मदद करता है.

  • ग्रीन कॉफी हमारे मूड को भी अच्छा बनाए रखता है.
  • किसी भी गर्भवती महिला को बहुत ज्यादा मात्रा में कॉफी का सेवन नहीं करना चाहिए.
  • ग्रीन कॉफ़ी सामान्य कॉफ़ी से ज्यादा लाभदायक होता है.
  • ग्रीन कॉफ़ी… कॉफ़ी का प्राकृतिक रूप है.
  • यह हमारी त्वचा की चमक को भी बढ़ाने में मदद करता है.
  • ग्रीन कॉफ़ी को लत नहीं बनाना चाहिए.
  • 15 Green Tea Benefits in Hindi language for skin ग्रीन टी के फायदे weight loss

 

तुलसी के 22 फायदे Tulsi Ke Fayde in Hindi और उपयोग plant herb leaves faide

Tulsi Ke Fayde in Hindi – तुलसी के फायदे और उपयोग – tulsi plant information in hindi – tulsi uses in hindi – tulsi plant in hindi – tulsi benefits in hindi – tulsi plant uses in hindi – tulsi plant information in hindi – tulsi ark benefits in hindi – shri tulsi benefits in hindi – tulsi uses in hindi – tulsi information in hindi – tulsi leaves benefits in hindi – tulsi plant care in hindi – tulsi ke beej ke fayde in hindi – tulsi ke fayde hindi me – tulsi tree in hindi – tulsi ke fayde in hindi – tulsi ka paudha in hindi – tulsi ke beej benefits in hindi – tulsi ke upyog in hindi
Tulsi Ke Fayde in Hindi

 

  • Tulsi Ke fayde in hindi

 

  • तुलसी का पौधा भारत के लगभग हर घर में पाया जाता है. हम इसे पवित्र मानते हैं और इसकी पूजा भी करते हैं.
    यह केवल हमारी आस्था का प्रतीक नहीं है, बल्कि तुलसी के पौधे में कई औषधीय गुण भी मौजूद हैं. आयुर्वेद में
    भी तुलसी के कई उपयोग बताए गए हैं. तुलसी के पौधे के कई उपयोग हैं और इसके फायदे हैं. जिससे हमें कई
    रोगों में लड़ने में सहायता मिलती है. और यह हमें डॉक्टर के पास जाने से बचाता है. सबसे बड़ी बात यह है कि
    तुलसी का कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं है और इसका उपयोग किसी भी उम्र का व्यक्ति कर सकता है. तो आइए
    जानते हैं कि तुलसी के क्या-क्या फायदे हैं और इसका उपयोग किस-किस तरह से किया जा सकता है.
  • Toolsi Benefits – तुलसी के फायदे और उपयोग :

  • तुलसी के बीज को चूर्ण बनाकर दही के साथ खाने से खूनी बवासीर खत्म हो जाता है.
  • और तुलसी पत्ता मिला हुआ पानी पीने से कई बीमारियाँ ठीक हो जाती है और कई बीमारियाँ हमसे दूर रहती है.
  • मधु ( शहद ) में तुलसी की पत्तों का रस मिलाकर चाटने से चक्कर आना बंद हो जाता है.
  • तुलसी के कुछ पत्तों को सरसों तेल में भून लीजिए और फिर इसमें लहसुन का रस मिलाकर कान में डाल दीजिए.
    इससे कान के दर्द में आराम मिलेगा.
  • अगर आपको आँखों में जलन की समस्या है, तो आपको हर रात में काली तुलसी का अर्क 2 बूंद आँखों में डालना चाहिए.
  • आपको अक्सर सिर दर्द की समस्या रहती है, तो दवा खाने से बेहतर है कि आप तुलसी का काढ़ा पिएँ.
  • अगर आपके साँसों से दुर्गन्ध आती है, तो तुलसी की कुछ सूखी पत्तियों को सरसों तेल में मिलाकर मुँह
    धोने से आपकी समस्या काफी हद तक कम हो जाएगी. यह उपाय पायरिया में भी उपयोगी है.
  • दाद, खुजली या त्वचा की इन्फेक्शन में तुलसी के अर्क को उस स्थान पर लगाने से फायदा पहुँचता है.
  • अगर आपके मुँह में संक्रमण हो गया हो, तो आपको हर दिन तुलसी के कुछ पत्ते चबाकर खाने चाहिए.
  • दिन में दो बार 10-12 तुलसी के पत्ते खाने से तनाव परेशान नहीं करता है.
  • जिन लोगों को दिल की बीमारी हो, उन्हें भी तुलसी पत्ते का नियमित सेवन करना चाहिए.
  • जिसके गुर्दे में पथरी हो गई हो, उसे शहद में मिलाकर तुलसी के अर्क का लगातार सेवन करना चाहिए.
    छः महीने में असर दिखना शुरू हो जायेगा.
  • शहद, अदरक और तुलसी को मिलाकर बनाया गया काढ़ा ब्रोंकाइटिस, दमा, कफ और सर्दी में लाभदायक है.
  • नमक, लौंग और तुलसी के पत्तों को मिलाकर बनाया गया काढ़ा इंफ्लुएंजा में राहत देता है.
  • Tulsi Ke Fayde in Hindi तुलसी का अर्क पीने से बुखार कम होता है.
  • जिन्हें ठंड जल्दी लग जाती हो, उन्हें तुलसी की 10-12 पत्तियों को एक कप दूध में उबालकर पीना चाहिए.

 

  • सर्दी-जुकाम होने पर तुलसी की पत्तियों को चाय में उबालकर पीना चाहिए.
  • तुलसी की पत्तियों को थोड़ी-थोड़ी देर में अदरक के साथ चबाने से खांसी-जुकाम से राहत मिलती है.
  • 2 कप पानी में 1 चम्मच तुलसी की पत्तियों का पाउडर और एक चम्मच इलायची पाउडर मिलाकर उबालें
    और काढा बना लें.
    एक दिन में 2-3 बार यह काढा पिएँ. आप इसमें दूध और चीनी भी मिला सकते हैं.
  • दस्त या गैस की समस्या होने पर 1 ग्लास पानी में 10-15 तुलसी की पत्तियाँ डालकर काढा बना लीजिए.
    फिर इसमें चुटकी भर सेंधा नमक डालकर पीजिए.
  • एक चम्मच तुलसी की पिसी हुई पत्तियों को पानी के साथ मिलाकर इसका पेस्ट नाभि के आस-पास लगाने से आराम मिलता है.

  • जिन्हें लीवर में समस्या हो, उन्हें तुलसी की 10-12 पत्तियों को गर्म पानी से धोकर रोज सुबह खाना चाहिए.
  • तरबूज के फायदे और उपयोग – Benefits of Watermelon in Hindi Common Facts

 

error: Content is protected !!