दिल के जख्मों को – Dil ki Baat Shayari ke Saath Good Morning

Dil ki Baat Shayari ke Saath Good Morning – latest  sms with image on facebook for good night | Hindi shayri collection for haal e dil Dil ki Baat Shayari ke Saath good morning

 

  • दिल की बात

 

  • दिल की बात दिल में हीं रहे तो अच्छा है
    हर किसी को दिल खोलकर, दिल के राज दिखाया नहीं करते
  • दिल कितने भी जख्मों से भरा क्यों न हो
    दिल के जख्मों का यूँ सरेआम तमाशा बनाया नहीं करते.
    → हर किसी से अपने दिल की बात बोल देने का मतलब होता है……. अपनी कमजोरियों को खोलकर दूसरे के सामने रख देना.
  • अजनबियों से हाल-ए-दिल बताया नहीं करते
    जहाँ दिल से दिल न मिलें, वहाँ शब्दों को जाया नहीं करते.
  • कैसे लिखोगे कागज पर उस इश्क की दास्ताँ
    जिसमें दो प्रेमियों ने एक-दूसरे को सदियों से पल-पल चाहा हो
  • प्रेमी हारते हैं, प्रेम कभी नहीं हारता है.
  • माना मैं उसे नहीं पा सका, माना मैं हार गया
    लेकिन जीतनी है प्यार की ये जंग मुझे मेरे प्यार के लिए……………
    मैं हार जाऊ तो कोई बात नहीं, लेकिन अपने प्यार को कैसे हारने दे सकता हूँ मैं
    मैं मिट जाऊ तो कोई बात नहीं, लेकिन अपने प्यार को कैसे मिटने दूँ मैं
  • इस बेवफाई के दौर में प्यार के बारे में सोचकर भी डर लगता है
    कि न जाने कब किसकी बेवफाई, किसी को पूरी तरह तोड़ डाले.
  • सच्चा प्यार तो न मिला हमें
    लेकिन सच्चे प्यार को पाने के काबिल हो गए हम.
  • वादों को निभाना प्यार है
    किसी की जिंदगी बन जाना प्यार है
    जमाने से बढ़कर जो तुम्हें चाहे, वो प्यार है
    अपने प्यार के लिए, पूरी दुनिया से लड़ जाना प्यार है.
  • चलो एक-दूसरे से इस तरह मिल जाएँ हम
    कि इस एक पल को सौ बरस की तरह जी लें हम.
  • प्यार में मिले जख्म कभी न दिखाना किसी को
    वरना लोग, लोग बेदर्दी से दबायेंगे… तुम्हारी कमजोर नब्ज को
    क्योंकि हर किसी ने, किसी-न-किसी से कभी-न-कभी प्यार में धोखा खाया हीं होता है.
  • यूँ सबके सामने अपने आंसुओं को छलकाया मत करो
    दिल के दर्द यूँ सरेआम दिखाया मत करो.
  • कहाँ मिलता है अब कोई हक से हाथ थमने वाला वाला
    कहाँ मिलता है अब कोई टूटकर चाहने वाला.

 

अगर आप कविता, शायरी, Article इत्यादि लिखने में सक्षम हैं, तो हमें अपनी रचनाएँ 25suvicharhindi@gmail.com पर भेजें. आपकी रचनाएँ मौलिक और अप्रकाशित होनी चाहिए.

SHARE

2 COMMENTS

  1. Abu Yasir Himayou

    Phir Aaj Koi Gazal Tere Naam Na Ho Jaye !!
    Kahin Likhte Likhte Shaam Na Ho Jaye !!
    Kar Rahe Hain Intezaar Teri Mohabbat Ka !!
    Isi Intezaar Me Zindagi Tamam Na Ho Jaye !!

  2. Naziya ali khan

    Jindgi sab kro but sacha pyar our bahrosa kabi mat kro ye pyar our bahrosa dil ke tukde tukde kar dehta he kun ke Aaso rulatahe

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here