जल का महत्व निबन्ध – Essay On Importance Of Water in Hindi Language Jal Ka Mahatva

Essay On Importance Of Water in Hindi Language – Essay On Importance Of Water in Hindi Language – Essay On Importance Of Water in Hindi Language – Essay On Importance Of Water in Hindi Language

 

  •  Jal Ka Mahatva – जल का महत्व निबन्ध Essay On Importance Of Water in Hindi Language

 

  • जल (पानी) प्रकृति द्वारा दी गयी अनमोल देंन है। और हमारे लिए बहुत ही ज़रूरी है। भोजन के बिना तो
    हम कई दिनों तक जीवन व्यतीत कर सकते हैं परंतु जल के बिना जिन्दा नहीं रह सकते हैं। मनुष्य के
    साथ-साथ जल पशु, पक्षी, पेड़, पौधे, तथा अन्य जानवरों के लिए भी अति आवश्यक हैं। उनका जीवन
    भी जल पर निर्भर करता है। यहाँ तक कि मानव के शरीर का 2 तिहाई हिस्सा पानी है। मानव मंगल से
    लेकर चाँद तक की सतह पर पानी की खोज में लगा हुआ है। ताकि वहाँ पर भी जीवन संभव हो सके।
    धरती पर जीवन जीने के लिए सबसे महत्वपूर्ण स्त्रोत जल ही है। क्योंकि जल रोजमर्रा के कार्यों के लिए
    भी बहुत ज्यादा आवश्यक है। उदहारण के लिए पानी पीना, नहाना, भोजन बनाना, कपड़े धोना, फसल
    को पैदा करने आदि के लिए जल बहुत महत्वपूर्ण है।
  • पृथ्वी पर पानी का संतुलन वर्षा और वाष्पीकरण द्वारा होता है।

  • पृथ्वी पर पानी का संतुलन वर्षा और वाष्पीकरण द्वारा होता है। पृथ्वी का करीबन 3/4 हिस्सा पानी से
    घिरा हुआ है। परंतु बहुत ही कम प्रतिशत जल मनुष्य के इस्तेमाल के लिए उपलब्ध है। राष्ट्रीय अपराध
    रिकार्ड्स के आकलन के बाद जो रिजल्ट आया उसमे लगभग 16,632 किसान (2369 महिलाएं)
    आत्महत्या से अपना जीवन समाप्त कर चुके हैं। हालाँकि 14.4 % किस्से सुखा पड़ने की वजह से हुए है
    अर्थात इन सब का कारण भी पानी की कमी है। पहले लोग नदी का पानी ऐसे ही पी लिया करते थे परंतु
    आज के समय में नदियों या झीलों का पानी पीने लायक शुद्ध नहीं है। शहरों द्वारा सारा गन्दा पानी नदियों
    में छोड़ दिया जाता है। जल के पप्रदूषण की समस्या बढ़ती जा रही है। जिसके कारण जल में रहने वाले
    जीवों की संख्या में भी कमी आ रही है। दैनिक कार्यों से लेकर कृषि उद्योग में जल बहुत आयश्यक है।
    हमें पानी को बचाना चाहिए तथा उसका संरक्षण करना चाहिए। गांवों के लोगों को बरसात के पानी
    को इकठ्ठा करना चाहिए। उनके सही रख रखाव के लिए तालाब बनाकर बरसात के पानी को बचा सकते हैं।
  • युवा पीढ़ी को जागरूकता की आवश्यकता है।

  • युवा पीढ़ी को जागरूकता की आवश्यकता है। और उन्हें इस मुद्दे को लेकर भी एकाग्र होना चाहिए। आने वाले
    समय में जनसँख्या की बढ़ोतरी और उसी के साथ कृषि में बढ़ोतरी होगी जिसके लिए जल का होना अति
    आवश्यक है। पानी का इस्तेमाल सिर्फ ज़रूरत के लिए कम से कम मात्रा में करना चाहिए हमे जल के व्यर्थ
    नहीं करना चाहिए। हमे धरती पर स्वच्छ पानी के महत्व को समझना चाहिए। जहाँ जल प्रकृति की देन है
    वहां आज के समय में लोगों को पानी खरीद कर इस्तेमाल करना पड़ रहा है। गरीबी और जनसँख्या की
    समस्या के साथ जल की समस्या भी बहुत जटिल है। हम जीवन में जल का इस्तेमाल तो बड़ा कर रहे हैं।
    परंतु इसके बचाव व रख रखाव के लिए जो प्रयास करने चाहिए उस पर किसी का ध्यान नहीं है। यह आने
    वाले समय के लिए बिलकुल उचित नहीं है। पानी हमारे लिए अमृत के सामान है इसलिए जीवन जीने के
    लिए व भविष्य बचाने के लिए पानी का बचाव व संरक्षण बहुत ज़रूरी है। – आँचल वर्मा

 

अगर आप कविता, शायरी, Article इत्यादि लिखने में सक्षम हैं, तो हमें अपनी रचनाएँ 25suvicharhindi@gmail.com पर भेजें. आपकी रचनाएँ मौलिक और अप्रकाशित होनी चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here