निप्पलस से जुड़ी 15 महत्वपूर्ण जानकारियाँ – Facts About Nipples in Hindi

Facts About  Nipples in Hindi

 

  • Nipples के बारे में हमारे दिमाग में कई सवाल आते हैं, लेकिन हम उन सवालों के जवाब नहीं पूछ पाते हैं. इस लेख में हम Nipples से जुड़ी ऐसी हीं कुछ महत्वपूर्ण बातें जानेंगे. Nipples के आकार, रंग या बाल को लेकर लड़कियों के मन में कई चिन्ताएं घर कर जाती है. Nipple से जुड़ी इन बातों को जानने के बात आपकी कई चिन्ताएं खुद खत्म हो जाएँगी.

 

  • Nipples का आकार अलग-अलग होता है, और Nipples का आकार बड़ा या छोटा होने पर चिंता
    करने की कोई बात नहीं है. एक औरत जिसके स्तनों का आकार बड़ा है, उसके Nipples का आकार
    छोटा हो सकता है. और एक औरत जिसके स्तनों का आकार छोटा है, उसके Nipples का आकार बड़ा हो सकता है.
  • हर औरत के Nipples का रंग भी अलग-अलग होता है. किसी औरत के Nipples का रंग गाढ़ा,
    हल्का गुलाबी या भूरा भी हो सकता है. Nipples के रंग को लेकर भी परेशान होने की जरूरत नहीं है.
  • गर्भावस्था में Nipples का आकार बढ़ सकता है, इसका रंग गहरा हो सकता है.

  • कभी-कभी खुद-ब-खुद Nipples से तरल पदार्थ निकल सकता है. स्तनों को जोर से दबाने से भी Nipples
    से तरल पदार्थ निकल सकता है. लेकिन अगर आपके Nipples से बिना किसी कारण से बार-बार तरल पदार्थ निकलता हो, तो आपको डॉक्टर को दिखाने की जरूरत है.
  • Nipples के सामने की तरफ बहुत सारे छोटे छेद होते हैं, जिनका काम बच्चे तक दूध पहुंचाना होता है.
    वैसे ये छेद दिखाई नहीं देते हैं.
  • Nipples के आस-पास बाल होना सामान्य सी बात है, ज्यादातर महिलाओं के nipples के आस-पास कुछ बाल होते हैं. कुछ महिलाएँ इन बालों को लेकर परेशान और डरी हुई होती है. लेकिन इन बालों को लेकर परेशान होने या डरने की कोई बात नहीं है.
  • Nipples के जरिये भी चर्मोत्कर्ष पाया जा सकता है, क्योंकि Nipples बहुत ज्यादा सम्वेदनशील होते हैं.

  • अगर आप उत्तेजित नहीं हैं तब भी आपके Nipples कड़े हो सकते हैं. Sexual उत्तेजना के कारण
    आपके nipples कड़े और डार्क हो सकते हैं. लेकिन कभी-कभी बहुत ठंड लगने से भी या कसा हुआ
    टॉप या ब्रा पहनने से भी ऐसा हो सकता है. इस स्थिति में padded bra पहनना सबसे अच्छा है.
  • कई स्त्रियों, पुरुषों में दो से ज्यादा Nipples भी होते हैं. लेकिन यह कोई चिंता की बात नहीं है, इसे
    लेकर परेशान या शर्मिंदा होने की जरूरत नहीं है. और न तो तीसरे Nipple को हटाने की कोशिश
    करने की जरूरत है. क्योंकि इसका आपके शरीर या स्वास्थ्य पर कोई बुरा प्रभाव नहीं पड़ता है.
  • कुछ महिलाओं के Nipples बहुत ज्यादा सम्वेदनशील होते हैं. जैसे-जैसे पीरियड नजदीक आता जाता है यह सम्वेदनशीलता बढ़ती जाती है. इस स्थिति में Nipples कड़े हो सकते हैं, इनसे हल्का श्राव हो सकता है,
    इनमें हल्का दर्द हो सकता है.
  • कुछ महिलाओं के Nipples नाभि की तरह अंदर धंसे हुए हो सकते है, यह भी बिल्कुल सामान्य है.
    हाँ बच्चे को दूध पिलाने समय थोड़ी परेशानी हो सकती है, लेकिन इससे परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है.
  • कुछ महिलाओं के स्तन के पास अलग रंग में धब्बा जैसा होता है, इसका रंग भी बदलता है,
    लेकिन यह Nipple नहीं होता है.
  • Nipples में पपड़ी पड़ जाना, Nipples का रंग बदलकर बहुत ज्यादा लाला हो जाना या Nipples में बिना किसी कारण के बहुत ज्यादा तकलीफ होना ब्रैस्ट कैंसर का लक्षण हो सकता है. ऐसी स्थिति में आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए.
  • दोनों Nipples का आकार अलग-अलग होता है, यह सामान्य बात है.
  • बाई ओर का Nipple ज्यादा सम्वेदनशील होता है.

 

अगर आप कविता, शायरी, Article इत्यादि लिखने में सक्षम हैं, तो हमें अपनी रचनाएँ 25suvicharhindi@gmail.com पर भेजें. आपकी रचनाएँ मौलिक और अप्रकाशित होनी चाहिए.

SHARE

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here