Breaking News

लिव इन रिलेशनशिप के 15 फायदे नुकसान Live in Relationship Meaning in Hindi

live in relationship meaning in hindi – live in relationship law – live in relationship in india – living problems benefits – advantage and disadvantage marriage – Live in Relationship Meaning in Hindi || लिव इन रिलेशनशिप फायदे नुकसान – Live in Relationship Meaning in Hindi || लिव इन रिलेशनशिप फायदे नुकसान – Live in Relationship Meaning in Hindi || लिव इन रिलेशनशिप फायदे नुकसान
लिव-इन रिलेशनशिप के फायदे और नुकसान live in relationship meaning in hindi advantage disadvantage marriage

 

  • Live in Relationship – लिव-इन रिलेशनशिप फायदे / नुकसान

 

  • लिव-इन रिलेशनशिप का मतलब होता है, लड़के और लड़की का आपसी सहमती से, बिना शादी किए पति-पत्नी की तरह रहना. भारतीय शहरों में आजकल लिव-इन रिलेशनशिप का चलन बढ़ रहा है.
    कुछ युवाओं के लिए लिव-इन रिलेशनशिप अपने रिश्ते को जाँचने-परखने का माध्यम होता है.
    तो कुछ युवाओं के लिए लिव-इन रिलेशनशिप टाइमपास और अपनी इच्छाओं की पूर्ति का एक माध्यम होता है.
    कुछ लोग इसे आधुनिकता का पैमाना मानते हैं, वहीं कुछ लोगों को लिव-इन रिलेशनशिप की बात नागवार गुजरती है.
    हर रिश्ते की तरह लिव-इन रिलेशनशिप के भी कुछ फायदे और नुकसान हैं.
    कुछ बातों का लिव-इन रिलेशनशिप में भी ख्याल रखना चाहिए.
    तो आइए जानते हैं कि लिव-इन रिलेशनशिप के फायदे और नुकसान क्या हैं,
    तथा लिव-इन रिलेशनशिप में किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए.
  • लिव-इन रिलेशनशिप शुरू करने से पहले कुछ बातों का ध्यान रखें :

  • अगर आप लिव-इन रिलेशनशिप टूटने का सदमा बर्दाश्त करने की शक्ति नहीं रखते हैं, तो आपको लिव-इन रिलेशनशिप में भूलकर भी नहीं रहना चाहिए.
    क्योंकि लिव-इन रिलेशनशिप में इस बात की आजादी होती है कि सामने वाला व्यक्ति आपको कभी भी छोड़कर जा सकता है.
  • लिव-इन रिलेशनशिप में उसी व्यक्ति के साथ रहें, जिसे आप कम-से-कम 1 साल से जानते हों.
  • अगर आप किसी को एकतरफा प्यार करते हों, तो उसके साथ भूलकर भी लिव-इन रिलेशनशिप में न रहें.
  • किसी के साथ 1 साल लिव-इन रिलेशनशिप में रहने से अच्छा है, बिना लिव-इन रिलेशनशिप में रहे एक-दूसरे को ज्यादा से ज्यादा समझने की कोशिश करना.
  • अगर आपकी उम्र 30 साल से अधिक हो गई हो, तो आपको लिव-इन रिलेशनशिप में साथ रहने से पहले गम्भीरता पूर्वक सोच लेने की जरूरत है.
    आप उन सेलिब्रिटीज की जिंदगी से सीख ले सकते हैं जो ज्यादा उम्र में लिव-इन रिलेशनशिप शुरू करने के बाद अभी तक सिंगल हैं. और एक तनावग्रस्त जिंदगी जी रहे हैं.
  • अगर आप किसी के साथ एक बार लिव-इन रिलेशनशिप में रह चुके हैं, तो आपको फिर से लिव-इन रिलेशनशिप में नहीं रहना चाहिए.
  • जिस रिश्ते के बारे में आप यह जानते हों कि आपकी शादी के बाद भी आपके परिवार वाले इस रिश्ते को स्वीकार नहीं करेंगे,
    वैसे व्यक्ति के साथ आपको लिव-इन रिलेशनशिप में नहीं रहना चाहिए.
  • जिस व्यक्ति पर आपको भरोसा न हो, या जो व्यक्ति अच्छा न हो उसके साथ लिव-इन रिलेशनशिप में कभी नहीं रहना चाहिए.
  • लिव-इन रिलेशनशिप के दौरान सावधानियाँ :

  • इस बात पर गौर करते रहें कि कहीं आपका पार्टनर केवल आपका Use तो नहीं कर रहा है.
  • ध्यान रखें आपकी अन्तरंग फोटो या वीडियो का इस्तेमाल आपका पार्टनर आपके खिलाफ कर सकता है.
  • इस बात पर भी गौर करें कि आपका पार्टनर केवल पैसों के लिए तो आपका इस्तेमाल नहीं कर रहा है.
  • इस बात पर भी ध्यान दें कि आप अपने पार्टनर के लिए मन बहलाने की वस्तु बनकर न रह जाएँ.
  • अगर लम्बे समय तक लिव-इन रिलेशनशिप में रहने के बाद भी आपको अपने रिश्ते का
    उज्ज्वल भविष्य नजर नहीं आ रहा हो, तो लिव-इन रिलेशनशिप को खत्म कर देना हीं आपके लिए बेहतर होगा.
  • बहुत कम उम्र में लिव-इन रिलेशनशिप के चक्कर में नहीं पड़ना चाहिए.

 

  • लिव-इन रिलेशनशिप के फायदे :

  • लिव-इन रिलेशनशिप में आपको आपके पार्टनर को जानने में मदद मिलती है.
  • शादी की जिम्मेदारियों को समझने में मदद मिलती है.
  • अगर अच्छा पार्टनर मिल जाए तो लिव-इन रिलेशनशिप जिंदगी संवार देता है.
  • दोनों पार्टनरों को अपनी-अपनी जिम्मेदारियों को समझने का मौका मिल जाता है.
  • दोनों अपने हिसाब से पैसों को खर्च या बचा सकते हैं.
  • क़ानून के अनुसार लम्बे समय से लिव-इन रिलेशनशिप में रहने वाले Male पार्टनर की सम्पत्ति में
    Female पार्टनर को हिस्सा मिल जाएगा.

 

  • लिव-इन रिलेशनशिप के नुकसान :

  • अगर खराब पार्टनर मिल गया तो लिव-इन रिलेशनशिप बुरे ख्वाब जैसा हमेशा याद आता रहेगा.
  • लिव-इन रिलेशनशिप में दोनों कपल में असुरक्षा की भावना होती है, क्योंकि दोनों एक-दूसरे को छोड़कर जाने के लिए स्वतंत्र होते हैं.
  • Live in Relationship के बारे में परिवार वालों को पता चल जाने के बाद बिना वजन का तनाव झेलना पड़ता है.
  • लिव-इन रिलेशनशिप उन लोगों के लिए नहीं है, जो लोग बहुत ज्यादा भावुक होते हैं.
  • लिव-इन रिलेशनशिप आपके कैरियर को भी बर्बाद कर सकता है.
  • इसका अंत बहुत बुरा भी हो सकता है.
  • लिव-इन रिलेशनशिप में छोटी-छोटी बातें भी तनाव का कारण बन जाती है.
  • Live in Relationship भारतीय समाज को आज भी स्वीकार्य नहीं है.
  • लिव-इन रिलेशनशिप में विवाह पूर्व शारीरिक सम्बन्ध बनते हैं, जो कभी-कभी जिंदगी तबाह होने का भी कारण बनते हैं.

 

अगर आप कविता, शायरी, Article इत्यादि लिखने में सक्षम हैं, तो हमें अपनी रचनाएँ 25suvicharhindi@gmail.com पर भेजें. आपकी रचनाएँ मौलिक और अप्रकाशित होनी चाहिए.

About Abhi

Hi, friends, SuvicharHindi.Com की कोशिश है कि हिंदी पाठकों को उनकी पसंद की हर जानकारी SuvicharHindi.Com में मिले. SuvicharHindi.com में आपको Hindi shayari, Hindi Ghazal, Long & Short Hindi Slogans, Hindi Posters, Hindi Quotes with images wallpapers || Hindi Thoughts || Hindi Suvichar, Hindi & English Status, Hindi MSG Messages 140 words text, Hindi wishes, Best Hindi Tips & Tricks, Hindi Dadi maa ke Gharelu Nuskhe, Hindi Biography jeevan parichay jivani, Cute Hindi Poems poetry || Awesome Kavita, Hindi essay nibandh, Hindi Geet Lyrics, Hindi 2 sad / happy / romantic / liners / boyfriend / girlfriend gf / bf for facebook ( fb ) & whatsapp, useful 1 one line rs मिलेंगे. हमारे Website में दी गई चिकित्सा सम्बन्धित जानकारियाँ / Upay / Tarike / Nuskhe केवल जानकारी के लिए है, इनका उपयोग करने से पहले निकट के किसी Doctor से सलाह जरुर लें.
Previous शिक्षा पर हिन्दी कविता- Poem On Education in Hindi Font
Next शुक्राणु बढ़ाने के 30 घरेलू उपाय || Shukranu Badhane Ke Gharelu Upay in Hindi

No comments

  1. mithilesh ram

    thank u

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!