क्रिसमस पर कविता – Poem On Christmas in Hindi Kavita

क्रिसमस  पर कविता – Poem On Christmas in Hindi – Poem On Christmas in Hindi – Poem On Christmas in Hindi

 

  • Poem On Christmas in Hindi – क्रिसमस  पर कविता

 

  • क्रिसमस ट्री सजायेंगे, हम सब क्रिसमस मनाएंगे।
    सांता क्लोस आएंगे। गिफ्ट हमें मिल जायेंगे।
    चर्च में कैरल गाएंगे। जीसस का जन्मदिन मनाएंगे।
    मैरी माँ के घर इस दिन भगवान् का बेटा आया था।
    जिसने इस संसार में खुशियों का दीपक जलाया था।
    पर जब बादशाह को खबर हुई। वह तो डर कर काँप गया।
    छोटे-छोटे बच्चों को मार कर वह डाल गया।
    लेकिन भगवान् के बेटे को, मार नहीं वह पाया था।
    और इस संसार ने अपने जीसस को पाया था।
    ईश्वर समझा सबने जीसस को, केफस बहुत घबराया था।
    अपनी गहरी चालों से यीशु को सूली चढ़वाया था।
    आज भी उनकी याद में हम सब कैरल गाते हैं।
    जन्मदिन पर उनके हम दीपों से जग को महकाते है।
    चर्च और घरों को हम बहुत सुन्दर सजाते हैं।
    इस दिन को हम बहुत धूम धाम से मनाते हैं।
    खुशियों को बांटकर हम क्रिसमस को हम मनाते हैं।
    प्यारे यीशु के जन्मदिवस पर शांति का सन्देश बांटते हैं।
    छोटे-छोटे बच्चे भी बहुत खुश हो जाते हैं।
    सांता जब उनको उपहार बहुत दे जाते हैं।
    क्रिसमस हम मनाएंगे। क्रिसमस ट्री सजायेंगे।
    सांता क्लोस आएंगे, बच्चे सब खुश हो जायेंगे।
    – आँचल वर्मा
  • krisamas tree sajaayenge, ham sab krisamas manaenge.

  • saanta klos aaenge. gipht hamen mil jaayenge.
    charch mein kairal gaenge. jeesas ka janmadin manaenge.
    mairee maan ke ghar is din bhagavaan ka beta aaya tha.
    jisane is sansaar mein khushiyon ka deepak jalaaya tha.
    par jab baadashaah ko khabar huee. vah to dar kar kaanp gaya.
    chhote-chhote bachchon ko maar kar vah daal gaya.
    lekin bhagavaan ke bete ko, maar nahin vah paaya tha.
    aur is sansaar ne apane jeesas ko paaya tha.
    eeshvar samajha sabane jeesas ko, kephas bahut ghabaraaya tha.
    apanee gaharee chaalon se yeeshu ko soolee chadhavaaya tha.
    aaj bhee unakee yaad mein ham sab kairal gaate hain.
    janmadin par unake ham deepon se jag ko mahakaate hai.
    charch aur gharon ko ham bahut sundar sajaate hain.
    is din ko ham bahut dhoom dhaam se manaate hain.
    khushiyon ko baantakar ham krisamas ko ham manaate hain.
    pyaare yeeshu ke janmadivas par shaanti ka sandesh baantate hain.
    chhote-chhote bachche bhee bahut khush ho jaate hain.
    saanta jab unako upahaar bahut de jaate hain.
    krisamas ham manaenge. krisamas tree sajaayenge.
    saanta klos aaenge, bachche sab khush ho jaayenge.

 

अगर आप कविता, शायरी, Article इत्यादि लिखने में सक्षम हैं, तो हमें अपनी रचनाएँ 25suvicharhindi@gmail.com पर भेजें. आपकी रचनाएँ मौलिक और अप्रकाशित होनी चाहिए. अपनी रचनाएँ हिन्दी में टाइप करके भेजिए.

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here