Breaking News

4 Poem on Mother in hindi language माँ पर हिन्दी कविताएँ mother day special

Poem on Mother in Hindi Language – A best poems for mothers day, small & Short poetry related to my maa for kids माँ पर कविता  – poem on mother in hindi – poem in hindi on mother – mother poem in hindi – mother day special poem in hindi – short poem on mother in hindi – poem on mother in hindi for kids – poem of mother in hindi – my mother poem in hindi – poem on mother in hindi language – Poem on Mother in Hindi Language – Poem on Mother in Hindi Language – a poem on mother in hindi – 4 line poem on mother in hindi – short poem in hindi on mother – best poem on mother in hindi – mother day in hindi poem – poem on my mother in hindi – poem in hindi on mother and father – poem about mother in hindi – short poem on mother in hindi language – mother day poem in hindi for kids – poem on mother in hindi for class 10 – poem on mother in hindi for class 6 – kavita on maa in hindi – maa par kavita in hindi – maa kavita in hindi – kavita in hindi on maa – meri maa kavita in hindi Poem on Mother in Hindi Language

 

  • माँ, क्या तुम कोई परियों की कहानी हो?

  • माँ, क्या तुम कोई परियों की कहानी हो?
    या मेरी कल्पना कोई पुरानी हो?
    क्या तुम कोई परियों की कहानी हो?
    क्या सचमुच मेरी ज़िंदगी में तेरा वजूद था?
    या बस मेरे सोच के दायरे में सिमटी हो?
    या हो कोई मधुर स्वप्न,
    जो बस नींदों में बनती हो?
    जिससे मेरा भाग्य है वंचित,
    तुम वो गोद सुहानी हो,
    माँ, क्या तुम कोई परियों की कहानी हो?
    अतीत में गूंजती मीठी सी आवाज़ हो तुम,
    एक धुंधली टिमटिमाती सी याद हो तुम,
    जिसे जी भर के बुला ना सकी,
    वही प्यारा सा अल्फ़ाज़ हो तुम,
    मेरे स्कूल के किस्सों,दोस्तों,
    पसन्द, नापसन्द हर चीज से अंजानी हो,
    माँ, क्या तुम कोई परियों की कहानी हो?
    इतनी कम समझ, इतनी छोटी उमर थी,
    कि मौत के मतलब से भी बेखबर थी,
    मैं रोज़ तेरा इंतेज़ार करती थी,
    सबसे तेरा ठिकाना पूछा करती थी,
    फिर भ्रम और वास्तविकता वक़्त ने बता दिया
    तेरे खालीपन ने मुझे लिखना सिखा दिया ।
    – Jaya Pandey
  • ऐसी होती है माँ

  • हमारे हर मर्ज की दवा होती है माँ….
    कभी डाँटती है हमें, तो कभी गले लगा लेती है माँ…..
    हमारी आँखोँ के आंसू, अपनी आँखोँ मेँ समा लेती है माँ…..
    अपने होठोँ की हँसी, हम पर लुटा देती है माँ……
    हमारी खुशियोँ मेँ शामिल होकर, अपने गम भुला देती है माँ….
    जब भी कभी ठोकर लगे, तो हमें तुरंत याद आती है माँ…..
    दुनिया की तपिश में, हमें आँचल की शीतल छाया देती है माँ…..

    खुद चाहे कितनी थकी हो, हमें देखकर अपनी थकान भूल जाती है माँ….
    प्यार भरे हाथोँ से, हमेशा हमारी थकान मिटाती है माँ…..
    बात जब भी हो लजीज खाने की, तो हमें याद आती है माँ……
    रिश्तों को खूबसूरती से निभाना सिखाती है माँ…….
    लब्जोँ मेँ जिसे बयाँ नहीँ किया जा सके ऐसी होती है माँ…….
    भगवान भी जिसकी ममता के आगे झुक जाते हैँ
    – कुसुम

 

  • माँ मैं फिर

    माँ मैं फिर जीना चाहता हूँ, तुम्हारा प्यारा बच्चा बनकर
    माँ मैं फिर सोना चाहता हूँ, तुम्हारी लोरी सुनकर
    माँ मैं फिर दुनिया की तपिश का सामना करना चाहता हूँ, तुम्हारे आँचल की छाया पाकर
    माँ मैं फिर अपनी सारी चिंताएँ भूल जाना चाहता हूँ, तुम्हारी गोद में सिर रखकर
    माँ मैं फिर अपनी भूख मिटाना चाहता हूँ, तुम्हारे हाथों की बनी सूखी रोटी खाकर
    माँ मैं फिर चलना चाहता हूँ, तुम्हारी ऊँगली पकड़ कर
    माँ मैं फिर जगना चाहता हूँ, तुम्हारे कदमों की आहट पाकर
    माँ मैं फिर निर्भीक होना चाहता हूँ, तुम्हारा साथ पाकर
    माँ मैं फिर सुखी होना चाहता हूँ, तुम्हारी दुआएँ पाकर
    माँ मैं फिर अपनी गलतियाँ सुधारना चाहता हूँ, तुम्हारी चपत पाकर
    माँ मैं फिर संवरना चाहता हूँ, तुम्हारा स्नेह पाकर
    क्योंकि माँ मैंने तुम्हारे बिना खुद को अधूरा पाया है. मैंने तुम्हारी कमी महसूस की है .
    – अभिषेक मिश्र ( Abhi )

 

  • माँ का एहसास

  • मीठा एहसास हुआ मुझको
    जब गोद में आयी तुम मेरे
    पूर्ण हो गया जीवन मेरा
    जब गोद में आयी तुम मेरे
    सारी पीडा़ दूर हो गयी
    रुह की ममता जाग गयी
    नैनो में एक आशा छायी
    जब गोद में आयी तुम मेरे
    नया एक अब नाम मिला
    नया रुप जीवन में खिला
    पतझड़ में फिर से बहार आयी
    जब गोद में आयी तुम मेरे
    देखा जब पहली बार तुझे
    चुँमा जब पहली बार तुझे
    दिल अति आनन्दित हो गया
    जब गोद में आयी तुम मेरे
    डुबते को जैसे किनारा मिले
    अनाथ को जैसे सहारा मिले
    वो एहसास हुआ मुझको
    जब गोद में आयी तुम मेरे
    सुनी जब तेरी किलकारी
    देखी जब तेरी मनुहारी
    दिल में उमंग सा छा गया
    जब गोद में आयी तुम मेरे
    आशीष यही अब है मेरी
    काबिलियत हो तुममे इतनी
    इतराऊँ भाग्य पर मै अपनी
    कि गोद में खेली तुम मेरे
    – कंचन पाण्डेय GURUSANDI MIRZAPUR UTTAR PRADESH

 

 

अगर आप कविता, शायरी, Article इत्यादि लिखने में सक्षम हैं, तो हमें अपनी रचनाएँ 25suvicharhindi@gmail.com पर भेजें. आपकी रचनाएँ मौलिक और अप्रकाशित होनी चाहिए.

About Abhi

Hi, friends, SuvicharHindi.Com की कोशिश है कि हिंदी पाठकों को उनकी पसंद की हर जानकारी SuvicharHindi.Com में मिले. SuvicharHindi.com में आपको Hindi shayari, Hindi Ghazal, Long & Short Hindi Slogans, Hindi Posters, Hindi Quotes with images wallpapers || Hindi Thoughts || Hindi Suvichar, Hindi & English Status, Hindi MSG Messages 140 words text, Hindi wishes, Best Hindi Tips & Tricks, Hindi Dadi maa ke Gharelu Nuskhe, Hindi Biography jeevan parichay jivani, Cute Hindi Poems poetry || Awesome Kavita, Hindi essay nibandh, Hindi Geet Lyrics, Hindi 2 sad / happy / romantic / liners / boyfriend / girlfriend gf / bf for facebook ( fb ) & whatsapp, useful 1 one line rs मिलेंगे. हमारे Website में दी गई चिकित्सा सम्बन्धित जानकारियाँ / Upay / Tarike / Nuskhe केवल जानकारी के लिए है, इनका उपयोग करने से पहले निकट के किसी Doctor से सलाह जरुर लें.
Previous महात्मा गांधी पर कविता | Poem on Mahatma Gandhi in Hindi jayanti pe kavita
Next 12 मोटिवेशनल कोट्स हिंदी विथ पिक्चर्स Motivational Quotes in Hindi with pictures

40 comments

  1. Anonymous

    Nice
    I love the mother

  2. Anupma

    I really really💞 you my mom

  3. Mohit gupta

    I love u mom…..

  4. Raj siddhiqui

    Comment:Ma to ma hoti hai,
    Nasib wala vahi hota hai jisake pas ma hoti hai

  5. Pihu shekhawat

    you have only your best friend forever that is Maa, Amma, Mom, mother or call what ever you want to call. OK

  6. ankita yadav

    absolutely right poem

  7. हेतवी

    नाइस नाइस नाइस

  8. LOKESH CHAHAR

    Nice I like it

  9. Ayushyadav

    nice sach me aankhen nam ho gyi

  10. Anonymous

    Meri maa dunia ki best maa hai

  11. akash

    Comment:so heart touching poem

  12. thakur priyanshu rana

    my mom

  13. kirtee jugoo

    True. It makes me crying……………..

  14. Anonymous

    Wonderful touching the heart

  15. Riya mehera

    Heart touching 😊😊😊

  16. harsh

    My mom

  17. Sikandra kumar

    Bahut khubshurat

  18. anoymos

    nice

  19. Jatin kanojia

    Mumaa ko kbhi dhuki mt krna kyuki agr mumaa uske bete se dhukhi ho jaye to samjhlo tumhara janm bekar hai
    Maa ki respect krna tumhari sbse bdi punji hai
    I luv mumaa
    Muuuaahhh

  20. Anonymous

    MA ka Ehshas best poem by KANCHAN PANDEY

  21. mohit

    Very nice

  22. Anonymous

    lovely and true poem

  23. Anonymous

    Very nice yar

  24. Sachin Shukla

    very very sweet poem

  25. Virendra

    Maa to maa hoti h….maa or bhagwan dono ek h.

  26. Rahul kumar gupta

    Best poem

  27. shri

    Ma se badh ker kun
    jo samajh sake
    ma se badh ker kun
    jo chamak sake
    andhera ho deep bane
    muskil ho hall bane
    dard ho to aaram
    dhoop ho to chaoon
    maa se badh ker kun
    maa se badh ker kun

  28. Shivam Sharma

    Bahut achi hai ye kabita

    • Pari maurya

      Maa ke bina koi na apna hai sab kahne ko apna pari maurya

    • khushi

      Absolutely right…it’s an awesome poem…

  29. Abhi

    Poem on Mother in Hindi Language – A best poems for mothers day, small & Short poetry related to my maa for kids short language about emotional mother day a beautiful mothers day

  30. Ajay Kumar Tiwari

    Maa Mamta ki Ajab Parchhai Hai
    Uske Anchal ke Tale Humne Ek Alag hi Duniya pai Hai;
    Maa Hi Pavitra Shabda H Jisme Puri Duniya Samai H.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!