Sad Poetry in Hindi फिर आज उसने दुआओं में sad love poems hindi 4 girlfriend

Sad Poetry in Hindi – very sad poem on love – कविता – very sad love poetry in hindi – sad poem in hindi  – sad poetry hindi – sad poems in hindi – hindi sad poetry – sad hindi poetry – sad love poems in hindi – sad poetry about life in hindi  – very sad poems in hindi

 

  • फिर आज उसने दुआओं में

 

  • फिर आज उसने दुआओं में माँगा था मुझे
    फिर आज उसने बेईन्तहा चाहा था मुझे
    फिर आज उसके ख्वाबों-ख्यालों में था, सिर्फ मैं
    फिर आज उसे सबसे ज्यादा याद आया था मैं……………………..
    पर उसकी बेबसी तो देखो, अब वो मुझसे दूर है
    उसके ख्वाब शीशे की तरह, टूटकर चूर-चूर हैं
    नींद भी नहीं आती है, उसे रातों में
    मानो उम्र गुजर रही हो, किसी की यादों में……………………..
    शायद ये फासला, अब कभी खत्म होगा हीं नहीं
    क्योंकि किस्मत को हमारा मिलन मंजूर हीं नहीं
    वो भी तन्हा रोती है, और इधर खुश मैं भी नहीं
    शायद प्यार की मंजिल यहाँ भी नहीं, वहाँ भी नहीं……………………..
    पर उसने कहा है मुझसे…….
    कि एक दिन हम दोनों एक हो जायेंगे
    किस्मत ने जिन्हें जुदा किया है…….
    वो प्रेमी कल फिर मिल जायेंगे……………………………
  • – अभिषेक मिश्र ( Abhi )
  • तेरी जिंदगी से

    तेरी जिंदगी से बहुत दूर चले जाना है
    फिर न लौट कर इस दुनिया में आना है,
    बस अब बहुत हुआ …………………….
    अब किसी का भी चेहरा इस दिल में कभी नहीं बसाना है……………………..
    तुम्हारी जिंदगी में अब मैं नहीं
    तुम्हारी जिंदगी में अब कोई और सही
    पर मेरे दिल में तुम हमेशा रहोगे
    मेरा अधूरा  ख्वाब बनकर, मेरे हमनशीं ………………………
    न कर मुझे याद करके मुझपर और एहसान
    ऐसा न हो मुझे पाने की तमन्ना में
    चली जाए तेरी जान……………….
    मैं भी कोशिश करूँगा भुलाने की तुझे
    नहीं तो हो जाऊँगा तेरे नाम पर कुर्बान  ……………….
    हसरतें दिल में दबी रह गयी
    तुझे पाकर भी जिंदगी में कुछ कमी रह गयी ,
    आँखों में तड़प और दिल में दर्द अब भी है
    न जाने तेरे जाने के बाद भी
    आँखों में नमी रह गयी ………………..
    मन करता है जो दर्द है दिल में
    बयां कर दूँ हर दर्द तुझसे ,
    अब ये दर्द छुपाए नहीं जाते
    लेकिन नहीं कह सकता कुछ  तुझसे
    क्योंकि दिलो के दर्द दिखाए नहीं जाते ……………………….

 

अगर आप कविता, शायरी, Article इत्यादि लिखने में सक्षम हैं, तो हमें अपनी रचनाएँ 25suvicharhindi@gmail.com पर भेजें. आपकी रचनाएँ मौलिक और अप्रकाशित होनी चाहिए.

2 COMMENTS

  1. Kal meri jaan Nagma ka 22 October ko birthday hai or itne salo mai ye pahela birthday hoga jo wo mere bina manaygi mai use bohat pyaar karta hu shayad kabhi wo ye post padh le bas yahi dua hai

    Happy birthday meri jaan Nagma
    Missssss youu……

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here