विराट कोहली की जीवनी – Virat Kohli Biography in Hindi Language

Virat Kohli Biography in Hindi Language – Virat Kohli Biography in Hindi Language – Virat Kohli Biography in Hindi Language

 

  • विराट कोहली Indian cricket team के प्लेयर हैं.
  • इन्हें भविष्य का सचिन भी कहा जाने लगा है.
    ये बहुत आक्रमक बैट्समैन हैं.
  • विराट का जन्म 5 नवंबर 1988 को दिल्ली में हुआ था.

  • इनका पूरा नाम विराट प्रेम कोहली है. उनका निक नेम चीकू है.
  • उनके पिता प्रेम कोहली एक क्रिमिनल वकील थे.
    और उनकी माता का नाम सरोज कोहली है और वे एक गृहिणी हैं.

 

  • विराट को क्रिकेट बचपन से ही बहुत पसंद था, वह बचपन से अपने पिता के साथ क्रिकेट खेला करते थे.
  • विराट कोहली ने अपनी पढ़ाई विशाल भारती पब्लिक स्कूल से की है.
  • उनके पिता के दोस्त के कहने पर विराट के पिताजी ने उनका अड्मिशन Delhi Cricket Academy में कराया था. उनके दोस्त ने उन्हें सलाह दी के विराट के इस टैलेंट को इसी तरह गलियो में वेस्ट न करें.
  • विराट के पहले कोच/मेंटर राज कुमार शर्मा जी थे.

    जिन्होंने विराट का पूरा जीवन बदल दिया. यहाँ तक की विराट का चीकू नाम भी उन्होंने ही रखा.

  • 9वीं कक्षा में उन्हें सेंत सेवियर कान्वेंट स्कूल में डाला गया ताकि उन्हें क्रिकेट के प्रशिक्षण में सहायता मिल सके.
  • 18 दिसम्बर 2006 को ब्रेन स्ट्रोक की वजह से विराट के पिता की म्रत्यु हो गयी. पिताजी की म्रत्यु के बाद उन्हें बहुत सी मुश्किलों का सामना करना पड़ा.

  • विराट कोहली ने एक साक्षात्कार में बताया कि युवा दिनों में ही पिताजी को खोने के बाद उनका पारिवारिक व्यवसाय ठीक नहीं चल रहा था. जिसकी वजह से उन्हें किराये के घर में भी रहना पड़ा.
  • जब 2006 में विराट कर्नाटक के खिलाफ रणजी ट्राफी के लिए खेल रहे थे. तब उन्हें उनके पिता की म्रत्यु का पता चला. लेकिन विराट ने पहले अपने मैच को पूरा किया फिर वे अपने घर दिल्ली गए.
  • विराट कोहली दायें हाथ से खेलने वाले बैट्समैन हैं.
  • वह अभी इंडियन टेस्ट क्रिकेट टीम के कप्तान हैं. और वन-डे क्रिकेट की भारतीय टीम के उप-कप्तान हैं.
  • वह इंडियन क्रिकेट के अंडर-19 टीम के भी कप्तान रहे हैं. जिसने 2008 में मलेशिया के अंडर-19 विश्वकप में इतिहास रचाया.
  • विराट ने श्रीलंका के विरूद्ध अपने क्रिकेट के करियर की शुरुआत की.

  • शुरूआती दौर में विराट को आरक्षित खिलाड़ी के रूप में टीम में रखा जाता था. पर उन्होंने अपने टैलेंट से क्रिकेट के मध्यक्रम में अपने हुनर को साबित किया.
  • जब 2011 में भारत ने विश्वकप जीता तब विराट कोहली भी उस टीम का हिस्सा थे.
  • 2011 में अपना पहला टेस्ट मैच विराट ने वेस्ट इंडीज के खिलाफ खेला.

  • उन्होंने 2013 में ऑस्ट्रेलिया और साऊथ अफ्रीका में शतकों की वजह से उन्हें “वन-डे स्पेशलिस्ट” भी कहा जाने लगा.
  • वह वन-डे रैंकिंग में शीर्ष स्थान पर रहे तथा उन्होंने 20-20 मैच में भी सफलता हासिल की. और ICC में सर्वश्रेष्ठ 20-20 बैट्समैन की लिस्ट में भी शीर्ष स्थान पर रहे.
  • जब 2014 में धोनी ने Test Matches से संन्यास लिया. तब विराट को Test Team की कप्तानी सोंपी गयी.

  • उन्होंने वन-डे क्रिकेट में सबसे तेज़ 5000 रन बनाने का रिकार्ड्स भी बनाया.
  • विराट कोहली पहले ऐसे बल्लेबाज हैं. जिन्होंने 4 साल में 1000 या उससे भी ज्यादा रन वन-डे मैचों में हासिल किये. और साल 2015 में 20-20 मैच में वेह 1000 रन बनाकर दुनिया के सबसे तेज बैट्समैन बने.
  • विराट कोहली ने कई पुरस्कार हासिल किये. 2012 में ICC ODI प्लेयर ऑफ़ द इयर चुना गया.

 

  • BCCI द्वारा 2011-2012 में सर्वश्रेष्ठ अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेटर बने. उन्हें अर्जुन पुरस्कार भी मिला.
  • UK की एक मैगज़ीन smart pro ने 2014 में विराट कोहली को वर्ल्ड का दूसरा सबसे ज्यादा मार्केटबले इंसान बताया.
  • ये ISL की टीम FC Goa और IPTL फ्रेंचाईज़ी UAE रॉयल्स के सह-मालिक भी रहे.
  • विराट कोहली ने विश्वकप में पहले मैच में शतक बनाया.

  • विराट का शानदार प्रदर्शन अभी भी ज़ारी है.

 

अगर आप कविता, शायरी, Article इत्यादि लिखने में सक्षम हैं, तो हमें अपनी रचनाएँ 25suvicharhindi@gmail.com पर भेजें. आपकी रचनाएँ मौलिक और अप्रकाशित होनी चाहिए.

SHARE

1 COMMENT

  1. virat kohali ki jivani good h l lileked manishdinesh garg kolu

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here