इन्हें भी जरुर पढ़ें ➜
Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Life & Health Tips in Hindi – Dadi Maa Ke Gharelu Nuskhe

पीरियड जल्दी लाने के असरदार उपाय – Period Lane Ke Gharelu Nuskhe in Hindi masik

period lane ke gharelu nuskhe in hindi – period lane ke gharelu upay in hindi language – period jaldi lane ke yoga – masik dharm ke upay in hindi – periods jaldi aane ki tablet – period badhane ke gharelu upay – period rokne ke upay – period jaldi lane ka upay – period sahi time par nahi aana – period lane ke gharelu nuskhe in hindi
पीरियड जल्दी लाने के असरदार उपाय - Period Lane Ke Gharelu Nuskhe in Hindi masik

 

  • कभी-कभी Ladies या girls Periods जल्दी लाना चाहती हैं. या कभी-कभी Women को Periods आने में देर होती है. इस परेशानी से छुटकारा पाने के लिए आप कुछ आसान घरेलू उपाय आजमा सकती हैं. ये घरेलू नुस्खे आपके मासिक श्राव को जल्दी लाने में मदद करेंगे. इस लेख में हम जानेंगे कि आप अपने Periods कैसे जल्दी ला सकती हैं. इसके लिए आपको क्या-क्या करना होगा और क्या-क्या नहीं करना होगा.

 

rel="stylesheet">
  • Period lane ke gharelu nuskhe in Hindi

  • पीरियड को जल्दी लाने के लिए पपीता खाना चाहिए. पपीता में मौजूद कैरोटिन, हार्मोन एस्ट्रोजन उत्तेजन में
    मदद करता है, जिस कारण पीरियड्स जल्दी आ जाते हैं.
  • Period Jaldi Lane Ke Upay :

  • मासिक से 8-15 दिन पहले से पपीता खाने से Periods के दौरान Flow अच्छे से होता है और इससे

    Period का दर्द भी कम हो जाता है.

  • एक ग्लास पानी लीजिये, उसमें एक चुटकी हल्दी मिलाइए. और इस मिश्रण को Periods से 15 दिन
    पहले से सुबह-शाम नियमित रूप से पीना शुरू कर दीजिये, इससे Periods जल्दी शुरू हो जायेंगे.
  • गाजर में carotene पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है, इससे शरीर में एस्‍ट्रोजन का स्‍तर बढ़ जाता है,
    जिससे पीरियड्स जल्‍दी शुरू हो जाते हैं. इसलिए अगर आप अपने Periods को जल्‍दी लाना चाहती हैं
    तो दिन में 2-4 बार ताजा गाजर खाएँ या गाजर का रस पियें.
  • Periods के अनुमानित समय से लगभग 15 दिन पहले गुड़ के साथ एक छोटा चम्मच तिल लें.
    या फिर दिन में 2 बार 1 छोटा चम्मच तिल गर्म पानी से साथ पीने से भी पीरियड्स जल्दी शुरू हो जाता है.
  • समय से पहले Period लाने के लिए तिल के साथ गुड़ लीजिये या फिर 1 Glass पानी में अदरक के रस
    के साथ गुड़ घोलकर खाली पेट लें. इससे भी आपकी मासिक श्राव समय से पहले आएगी.
  • 1 glass अजवाइन के रस को हर दिन 2 बार पीने से Masik Dharm समय से पहले शुरू हो जाता है.
  • आप मेथी के बीजों का उपयोग भी कर सकती हैं. यह भी उतना ही कारगर होता है.
  • ये Tips (Period Jaldi Lane Ke Upay) आपके मासिक को जल्दी लाने में मदद करेंगे.
  • ब्रेस्ट साइज़ बढ़ाने के 23 टिप्स || Breast size Increase tips in Hindi

 

स्तनों का दर्द दूर करने के उपाय – Breast Pain Solution in Hindi Stan Dard Ke Upay Tips

breast pain solution in hindi – breast problem solution in hindi – breast me pain ke reason in hindi – pregnancy me breast pain solution in hindi – breast me jalan in hindi – stan dard ke upay – breast me ganth ka gharelu upchar – breast diseases in hindi – breast infection in hindi
स्तनों का दर्द दूर करने के उपाय - Breast Pain Solution in Hindi Stan Dard Ke Upay Tips

 

  • Girls, Ladies या Women को कई कारणों से Breast Pain oहोता है.होता होता है. कुछ आसान घरेलू नुस्खों को आजमाकर आप इस दर्द से खुद छुटकारा पा सकती हैं. इस लेख में हम आपको Breast pain दूर करने के कुछ ऐसे हीं आसान टिप्स बतायेंगे. जिन्हें आप घर बैठे कर सकती हैं.

 

rel="stylesheet">
  • हरी सब्जियों, केला और डार्क चॉकलेट का सेवन करें.
  • बादाम, हरी साग, हरा फूलगोभी का सेवन करें.
  • Ice Pack का use के आप Breast pain से राहत पा सकती हैं. ध्यान रखें कि बर्फ को सीधे स्तनों के

    सम्पर्क में न लायें. इसे दस मिनट तक लगायें.

  • ब्रेस्‍ट पर मसाज करने से सूजन से राहत मिलेग. नहाने से पहले ब्रेस्‍ट पर साबुन लगाकर कुछ मिनट तक
    हल्‍के हाथों से मसाज कीजिये. इसके अलावा 2 चम्‍मच गरम जैतून तेल और कुछ बूंद कपूर तेल में
    मिलाकर ब्रेस्‍ट को 1 या 2 बार दिन में मसाज कीजिये. इससे भी आपको राहत मिलेगा.
  • Push Up Bra और Underwire Bra ना खरीदें. व्‍यायाम के समय Sports पहने.

  • ढेर सारा पानी पीने की आदत डालिए.
  • विटामिन ई से युक्त आहार लें. सूरजमुखी बीज, बादाम, जैतून तेल, पालक, एवाकाडो और बीटरूट आदि का सेवन सेवन करें. इनमें Vitamin e पाया जाता है.
  • 1 या 2 चम्‍मच सेब का सिरका एक गिलास गरम पानी में मिलाएं. फिर उसमें थोड़ा शहद मिलाएं.
    इसे दिन में 2 बार पियें. यह आपके हार्मोन को बैलेंस करेगा और सूजन को कम करेगा.
  • 1 चम्‍मच सौंफ को 1 कप गरम पानी में डालकर 10 मिनट तक ढंककर रख दें.
    फिर इसे छानकर दिन में कई बार पियें. आप चाहें तो दिन में कई बार सौंफ चबा सकती हैं.
    यह फीमेल हार्मोन को बैलेंस करता है और शरीर में गंदगी जमा नहीं होने देता.
  • एक चम्‍मच रेंड़ी के तेल को 2 चम्‍मच जैतून तेल के साथ मिलाकर के ब्रेस्‍ट पर मसाज करें.
    इस तेल से ब्रेस्‍ट की सूजन कम होगी और उस तक ढेर सारे पोषण पहुंचेगें.
  • ज्यादा मक्खन, अचार आदि न खाएं.
  • अगर आपका वजन ज्यादा है, तो आपको अपना वजन कम करना होगा. इसके बिना Breast Pain
    से राहत पाना सम्भव नहीं होगा.
  • पत्ता गोभी के पत्तों को अपने ब्रेस्ट पर लगाइए और फिर किसी सूती कपड़े से लपेट लीजिये.

    ये आपकी सूजन को भी कम करेगा साथ हीं इसके दर्द में भी राहत मिलेगा.

  • Breast pain न हो हो इसके लिए आपको शारीरिक रूप से तन्दुरुस्त रहना होगा.

 

फिटकरी के फायदे, टोटके एवं उपयोग – Fitkari Ke Fayde Uses Fitkari Ke Totke laabh trike

fitkari ke fayde – fitkari ke fayde for skin – fitkari ke fayde skin ke liye – fitkari ke fayde for hair – fitkari ke fayde balo ke liye – fitkari in english – fitkari ke fayde video – fitkari se gora hone ke upay – fitkari uses
फिटकरी के फायदे, टोटके एवं उपयोग - Fitkari Ke Fayde Uses Fitkari Ke Totke laabh trike

 

  • फिटकरी का उपयोग हर घर में किसी न किसी रूप में होता है. इस लेख में हम फिटकरी के फायदे और उपयोग के बारे में जानेंगे.

 

rel="stylesheet">
  • फिटकरी के फायदे और उपयोग : fitkari ke fayde & Uses

  • अगर आपको कोई कीड़ा काट ले, तो फिटकरी के टुकड़े को उस स्थान पर रगड़ें. ऐसा करने से
    उस जगह पर हुई सूजन, घाव और लालिमा दूर होती है.
  • अगर आपको शरीर से ज्यादा पसीना आने की समस्या हो तो, नहाते समय पानी में फिटकरी को
    घोलकर उस पानी से नहाइए. ऐसा करने से पसीना आना कम हो जाता है.
  • नहाने से पहले नहाने वाले पानी में 10 ग्राम फिटकरी घोल लें. इस घोल से प्रतिदिन सिर धोएँ,
    इससे जुएं मर जाती हैं.
  • अगर आपके दांतों में कीड़ा लग गया है, या मुंह से बदबू आती है तो, आपको हर दिन सुबह-शाम फिटकरी को गर्म पानी में घोलकर उस पानी से कुल्ला करें. ऐसा नियमित रूप से करने से आपके दातों का कीड़ा खत्म हो जाएगा और बदबू आनी भी बंद हो जाएगी.
  • दांत दर्द की शिकायत हो, तो फिटकरी और काली मिर्च को पीसकर दांतों की जड़ों में मलने से दांतों का दर्द ठीक हो जाता है.
  • fitkari ke fayde for skin – आप झुर्रियों को कम के लिए पहले चेहरा धो लीजिए. फिर फिटकरी को ठंडे पानी से गीला करके चेहरे में हल्का लगायें. इसे सूख जाने दीजिए और फिर इसे हाथों से छुड़ा लीजिये. कुछ महीनों तक ऐसा नियमित रूप से करने के बाद आपका चेहरा चमकदार और त्वचा जवान बन जाएगी.
  • टांसिल की समस्या हो, तो गर्म पानी में चुटकी भर फिटकरी और नमक मिलाकर गरारा कीजिये.

    इससे आपको जल्द आराम मिल जायेगा.

  • नहाने के पानी में फिटकरी मिलाकर नहाने से खुजली की समस्या से मुक्ति मिलती है.
  • अगर चोट लग गया हो या घाव हो गया हो और आप खून बनना रोकना चाहते हों, तो उस स्थान को
    फिटकरी के पानी से धोएं. उसके अलावा उस घाव पर फिटकरी का चूर्ण बनाकर छिड़कें.
    ऐसा करने से खून बहना बंद हो जाता है.
  • अगर हाथों की उंगुलियों में सूजन जाए, तो थोड़े पानी में फिटकरी को डालकर उबाल लें और पानी
    को थोड़ा ठंडाकर इसमें कुछ देर उंगलियों को डुबायें. ऐसा करने से उंगलियों की सूजन में आराम मिलेगा.
  • दमा और खांसी हो तो, 1/2 ग्राम फिटकरी को पीसकर शहद के साथ मिलाकर के चाट लीजिये,
    आपको इससे लाभ होगा.

 

  • Fitkari Ka Fayde Vastu Sudharne Ke Liye Upyog – fitkari ke totke in hindi

  • एक कटोरे में फिटकरी रखकर उसमें पानी भर दीजिये और उसे बाथरूम में रख दीजिये. इससे घर का घर में शांति आएगी.
  • अगर आपको रात में सोते समय डरावने सपने आते हैं तो अपने तकिए के नीचे छोटा सा फिटकरी का
    टुकड़ा रखिये. डरावने सपने आना बंद हो जायेंगे.
  • अगर आपको लग रहा है कि आपके घर या दुकान को किसी की नजर लग गई है तो एक काले कपड़े में
    फिटकरी का टुकड़ा बांध कर रखें.
  • जिस घर में वास्‍तुदोष हो, वे 50 ग्राम फिटकरी लेकर उसे घर या ऑफिस के हर कमरे में रखें.
    इससे नकारात्मक प्रभावों का अंत होगा.
  • अगर आपकी अपने घर में या अपने पार्टनर से नहीं बनती तो अपने कमरे में फिटकरी का टुकड़ा रखें.
  • अगर आपको लगे कि खास कारण के बिना बार-बार आपके या आपके परिवार के सदस्यों की तबीयत
    खराब हो रही है तो आप अपनी कलाई पर एक फिटकरी का काले कपड़े में बांधकर पहन सकते हैं.
  • दही खाने के 19 फायदे | Dahi Khane Ke Fayde in Hindi font labh लाभ एवं उपयोग

 

सच्चा प्यार क्या होता है ? SACHA PYAR Kya Hota HAI hindi me answer pyar ka matlab

sacha pyar kya hota hai hindi me answer – sacha pyar kya hota hai shayari – sachcha pyar kise kehte hai – pyar kyu hota hai – pyar kya hota hai samjhaye koi – pyar ka matlab kya hai – pyar kaise hota hai meaning – pyar kya hota hai poetry – kya wo mujhe pyar karta hai – signs of true love from a girl in hindi – signs of true love from a woman in hindi – how to know boy loves you in hindi – what is true love in hindi language – how to know someone loves you or not in hindi – how to know someone loves you in hindi – how to know he likes me in hindi – सच्चे प्यार को कैसे समझें – प्यार में ये गलतियाँ कभी न करें
सच्चा प्यार क्या होता है ? SACHA PYAR Kya Hota HAI hindi me answer pyar ka matlab

 

  • सच्चा प्यार क्या होता है ? शायद यह दुनिया के कठिन सवालों में से सवाल है. इस लेख में हम आपको इसी सवाल के जवाब बतायेंगे. ताकि आपके लिए सच्चे प्यार को पहचानना मुश्किल न हो. सच्चे प्यार को पहचनाने की समझ सभी में होने चाहिए, क्योंकि कभी-कभी कुछ लोग प्यार के नाम पर टाइम पास करते हैं. तो कभी-कभी किसी गलत व्यक्ति के प्यार को स्वीकार करके आगे अपने लिए हम खुद मुसीबत मोल ले लेते हैं.

 

rel="stylesheet">
  • तो आइये जानते हैं Sache pyar ki nishani kya hai – यह कैसे जानें की सामने वाला व्यक्ति सच में आपसे प्यार करता है. (How to Know if a Person Truly Loves You – Sacha Pyar Kya Hota Hai ) :

  • जो आपसे प्यार करेगा, वह आपके साथ ज्यादा समय बिताना चाहेगा.
  • भले हीं सार्वजनिक रूप से वह आपके साथ ज्यादा खुलकर बात नहीं करता हो, लेकिन अकेले होने पर आपसे खुलकर बात करेगा.
  • आपको देखते हीं अगर उसका चेहरा खिल जाता हो, वह अपनी परेशानियों को भूल जाता है…. तो यह सच्चे प्यार की एक और निशानी है.
  • तनावग्रस्त होने के बावजूद अगर वह आपके साथ चिड़चिड़ा व्यवहार नहीं करता है….. तो वह सच में आपको महत्व देता है.
  • वह बार-बार सबसे नजरें बचाकर आपको देखने की कोशिश करेगा.
  • अगर आपकी उपस्थिति के कारण वह ज्यादा खुश या ज्यादा नर्वस हो जाता है. तो वह आपसे प्यार करता है.
  • जब आप बीमार हों या किसी कारण से परेशान हों, तो वह व्यक्ति आपको जल्द-से-जल्द परेशानी से बाहर छुटकारा पाता देखना चाहेगा.
  • आपकी बोली गई छोटी-छोटी बात भी उसके ध्यान में रहेगी.
  • आपकी उन खूबियाँ भी वह आपको बता देगा, जिनके बारे में शायद आपने ज्यादा ध्यान भी न दिया हो.
  • क्या वह आपकी अर्थपूर्ण प्रशंसा करता है ?
  • आई लव यू कहते वक्त, ईमानदारी उसकी बातों से झलकेगी.
  • वह अपने मन की बात आपसे खुलकर करेगा, अपने अतीत से जुड़ी बातें आपसे साझा करेगा.
    और भविष्य को लेकर अपने सपने या योजनाएँ शेयर करेगा.
  • आपसे दूर होने पर भी वह आपसे call या msg के जरिये आपसे जुड़े रहना चाहेगा.
  • वह बार-बार आपसे मिलना चाहेगा.
  • वह आपके भविष्य, आपkके स्वास्थ्य की चिंता करेगा.

  • आपके सपनों को पूरी करने में आपकी मदद करेगा.
  • सच्चा प्रेमी आपकी गलतियों, कमियों, बुरी आदतों के बारे में भी बताता है.
  • इस बात पर गौर कीजिये, कि क्या वह जरूरत पड़ने पर आपकी सलाह लेता है.
  • वह खुद परेशान होकर भी आपकी मुश्किल आसान करने की कोशिश करेगा.
  • आपके आधे-अधूरे कामों को पूरा करने में वह आपकी मदद करेगा.
  • वह आपको अपने कारण किसी परेशानी में नहीं डालना चाहेगा.
  • वह सबके सामने आपका मजाक नहीं उड़ाएगा.
  • किसी से प्यार करें तो इन बातों का भी ध्यान रखें : Pyar mein Kya Savdhani jarur Baratni Chahiye – sacha pyar kya hota hai ise kaise jane

  • हर व्यक्ति का स्वभाव अलग होता है, इसलिए एक-दूसरे को समझने के लिए कुछ समय लीजिये.
  • अगर वह खुद के अलावा आपकी सहेलियों / घरवालों से भी forcefully बात नहीं करने देता है. तो यह प्यार नहीं पागलपन है. ऐसे व्यक्ति से अपने रिश्ते के बारे में आपको गम्भीरता से सोचने की जरूरत है.
  • कई बार कुछ लोग प्यार का मुखौटा पहने रहते हैं. और ऐसे मुखौटों को पहचानना आसान नहीं होता.
  • टेक्नोलॉजी, कैमरा और मोबाइल ने मुश्किलें कम की है रोजमर्रा की जिंदगी से. लेकिन इन्हीं सब चीजों के जरिये अन्तरंग विडियो बनाकर या फोटो लेकर भी fake lover आपकी जिंदगी बर्बाद कर सकता है.
  • अपने राज की बातें अपने लवर को न बताएँ.
  • याद रखें, कुछ लाइन्स फिल्मों और धारावाहिकों में हीं अच्छे लगते हैं. इसलिए ध्यान रखें कि किसी ऐसे लाइन को इतना सीरियसली न ले लें कि उससे आपकी जिंदगी पर नकारात्मक पर प्रभाव पड़ जाये.

 

  • यह कैसे पता करें कि किसी से आपको प्यार हो गया है: Sache pyar ki nishani kya hai – sacha pyar kya hota hai

  • जब बार-बार किसी व्यक्ति का ख्याल आपको आने लगे.
  • किसी और की तस्वीर में भी वह शख्स नजर आता है.
  • आप उसकी गलतियों को नजरंदाज करने लगे हैं.
  • उससे हार मानने में आपको अच्छा लगता है.
  • आप यह चाहते हैं कि वह व्यक्ति हमेशा आपके पास मौजूद रहे.
  • उसके सुख-दुःख को आप महसूस करते हैं और उसकी परेशानी दूर करना चाहते हैं.
  • उसकी ख़ुशी के लिए त्याग करने से भी आप पीछे नहीं हटते हैं.
  • उससे झगड़ा हो जाने पर आपको बुरा लगता हो.
  • उसके साथ सबके सामने भी बातचीत के जरिये छेड़छाड़ करते हैं.
  • उससे मिलने से पहले अच्छे से तैयार होने लगे हों.
  • आप उसे जीवन साथी के रूप में पाने की ख्वाहिश रखते हैं.
  • जब भी वह आपकी कमी बताता है, तो आपको बुरा नहीं लगता है.
  • हमें विश्वास है आपको प्यार से जुड़े ( sacha pyar kya hota hai ) कई सवालों का जवाब मिल गया होगा.
    आपको यह लेख कैसा लगा हमें जरुर बताएँ.
  • प्यार क्या होता है कविता ? Pyar Kya Hota Hai Poetry

 

यह गांठ आपको बना सकती है बाँझ || Pcod Problem Solution in Hindi

pcod problem solution in hindi – यह गांठ आपको बना सकती है बाँझ || Pcod Problem Solution in Hindi – यह गांठ आपको बना सकती है बाँझ || Pcod Problem Solution in Hindi – यह गांठ आपको बना सकती है बाँझ || Pcod Problem Solution in Hindiयह गांठ आपको बना सकती है बाँझ || Pcod Problem Solution in Hindi

यह गांठ आपको बना सकती है बाँझ || Pcod Problem Solution in Hindi

 

 

rel="stylesheet">
  • PCOS PCOD महिलाओं को होने वाली एक बीमारी है. 10 में से 1 महिला को PCOS PCOD की बीमारी होती है. इस लेख में हम इसी बीमारी के लक्षण, कारण, उपचार के बारे में आपको जानकारी देंगे.
  • PolyCystic Ovarian Disease ( PCOD ) जिसे PolyCystic Ovarian Syndrome ( PCOS ) भी कहा जाता है, यह महिलाओ में होने वाली एक बीमारी है. इस समस्या से ग्रस्त ज्यादातर महिलाओ को पता नहीं होता है कि उन्हें यह समस्या है. महिलाओ में Hormones के असंतुलन के कारण अंडाशय ( Ovary ) में छोटी-छोटी गांठ तैयार हो जाती है जिस कारण महिलाओ के मासिक धर्म के साथ प्रजनन क्षमता पर भी असर पड़ता है. अगर समय पर PCOD का इलाज न किया जाए तो यह Cancer का रूप भी ले सकती है. महिलाओ में अंडाशय में सामान्य से अधिक मात्रा में Androgen Hormones के निर्मिति होने पर अंडाशय में छोटी-छोटी तरल पदार्थयुक्त गांठ तैयार हो जाती है जो धीरे-धीरे बढ़ने लगती है. इससे महिलाओ में प्रजनन क्षमता कम हो जाती है और महिला गर्भधारणा करने में असमर्थ हो जाती है.

  • PolyCystic Ovarian Disease ( PCOD ),
    ( PCOS ) के symptoms :

    अनियमित मासिक धर्म
    चेहरे / शरीर पर अधिक बाल
    मुंहासे
    रुसी
    पेटदर्द
    गर्भधारण में मुश्किल आना
    यौन इच्छा में अचानक कमी आना
    गर्भ में छोटी-छोटी गांठ जो Ultra Sound Scan करने पर दिखाई देती है
    बार-बार गर्भपात
    सिर के बालों का अधिक झड़ना
    त्वचा पर दाग
    मोटापा


  • Reasons of PCOS PCOD

    PCOS PCOD होने के कारण

  • असंतुलित आहार : junk food, ज्यादा तेलयुक्त, वसायुक्त और अधिक मीठा आहार।
  • रोग ( Diseases ) : PCOD होने के पीछे मधुमेह ( Diabetes ) और उच्च रक्तचाप ( Hypertension ) जैसे रोग भी एक बड़ी वजह है. अनुवांशिकता भी एक कारण है. Cholesterol का बढ़ना, HDL कम होना या उच्च Triglycerides के वजह से भी PCOD हो सकता है.
  • मोटापा ( Obesity ) : मोटापे में शरीर में बढ़ी हुई चर्बी के कारण Estrogen hormone का निर्माण सामान्य से ज्यादा होता है, जो कि अंडाशय में गांठ बनाने के लिए जिम्मेदार हो सकता है.
  • तनाव ( Stress ) : धूम्रपान, शराब, रात का खाना देर से खाना इत्यादि कारणों से भी hormonal imbalance होता है.
  • PCOS PCOD होने पर क्या करें?
  • तुरंत डॉक्टर से मिलें. इसके अलावा diabetes व thyroid टेस्ट ज़रूर करवा लें क्योंकि जो भी महिला PCOS PCOD से पीड़ित होती है उसके diabetes होने के chances बढ़ जाते हैं. और हाइ इंसुलिन लेवल के कारण ओवरीज़ ज़्यादा male हॉर्मोन्स बनाने लग जाती है – और इसकी वजह से हाई BP, हाई कोलेस्ट्रॉल व दिल की बीमारियां होने की संभावना बढ़ जाती है.

 


  • PCOS PCOD को दूर करने के घरेलू उपाय

    PCOS PCOD Dur karne ke gharelu upay

  • दालचीनी – एक टी स्पून दालचीनी का पाउडर गर्म पानी में मिलाकर पी लें. आप चाहें तो इसे अपने cereal, ओटमील, दही या चाय में मिला कर भी पी या खा सकती हैं. इसका सेवन रोज करें, जब तक आपको सुधार न दिखने लगे.
  • अलसी – 1-2 टेब्लस्पून ताज़ी पीसी हुई अलसी को पानी में मिलाकर पी लें. इसे रोजाना तब तक पिए, जब तक आपको नतीजे न मिलने लगे.
  • मेथीदाना – तीन टी स्पून मेथीदाने को पानी में 7-8 घंटे के लिए भिगो दें. फिर सुबह खाली पेट एक टी स्पून भीगा हुआ मेथीदाना शहद के साथ मिलाकर खा लें. इसी तरह से एक-एक टीस्पून लंच व डिनर के 10 मिनट पहले खा लें. इस उपाय को कुछ महीने तक करें, जब तक आपको मनचाहे नतीजे ना मिलें.
  • Apple Cider Vinegar – दो टी स्पून apple cider vinegar को एक ग्लास पानी में मिलाकर रोजाना सुबह खाली पेट व लंच और डिनर से पहले पिएं. इसे कुछ महीने करें, जब तक आपको बीमारी से छुटकारा ना मिल जाए.
  • कोई भी नुस्खा आज़माने से पहले डॉक्टर से ज़रूर सलाह लें.

 


  • क्या-क्या सावधानी बरतें इस बीमारी से छुटकारा पाने के लिए
    Savdhaniyan

  • वज़न कंट्रोल करें – वज़न ज़्यादा होने से PCOS की समस्या गंभीर हो जाती है. वज़न कम करने से androgen का लेवल व दूसरी समस्याएं भी कम होंगी और पीरियड भी नियमित रूप से आने लगेगा. अगर इसके कारण आपको pregnant होने में समस्या हो रही है तो वज़न कम करने से ये समस्या भी दूर हो सकती है, इसलिए वज़न कम करना बेहद ज़रूरी है.
  • नियमित Exercise करें – वॉक, स्विमिंग, जोगिंग, cycling etc किसी भी तरह की कसरत नियमित रूप से करें.
  • तनावमुक्त रहें – इसके लिए आप प्राणायाम व meditation भी कर सकती हैं.
  • सही लाइफस्टाइल का चुनाव करें – स्मोकिंग, alcohol, कोल्ड ड्रिंक्स, जंक फूड, caffeine… इन सभी चीजों से दूर रहे क्योकि ये शरीर को dehydrate करती हैं व दूसरे और भी नुकसान पहुंचाती है.
  • जल्दी उठें व पूरी नींद लें.
  • खान-पान का रखे ध्यान – खाने में ओमेगा 3 फेटी एसिड्स से भरपूर चीज़ें शामिल करें जैसे अलसी, फिश, अखरोट etc. अपनी डाइट में विटामिन B2, B3, B5 व B6 को शामिल करें, Whole grains, नट्स, ताज़े seasonal फल व सब्जियां अपनी रोज की डाइट में शामिल करें. दिन में 3 लीटर पानी पिएं.

 

झुर्रियों से बचने के 18 उपाय face wrinkle treatment in hindi chehre ki jhuriyan kaise dur kare

face wrinkle treatment in hindi – चेहरे की झुर्रियों से बचने के उपाय – face wrinkle treatment in hindi – चेहरे की झुर्रियों से बचने के उपाय – face wrinkle treatment in hindi – चेहरे की झुर्रियों से बचने के उपाय – face wrinkle treatment in hindi – चेहरे की झुर्रियों से बचने के उपायझुर्रियों से बचने के 18 उपाय face wrinkle treatment in hindi chehre ki jhuriyan kaise dur kare

झुर्रियों से बचने के 18 उपाय face wrinkle treatment in hindi chehre ki jhuriyan kaise dur kare 

 

rel="stylesheet">

  • उम्र ज्यादा दिखने के कारण
    Umar Jyada dikhne ke karan

  • कम पानी पीना – जिन लोगों को कम पानी पीने की आदत होती है उन लोगों के चेहरे की चमक उम्र से पहले ही गायब हो जाती है.
  • नशा करना – नियमित रूप से धूम्रपान करने वाले और शराब का सेवन करने वाले के चेहरे की चमक कभी भी बरकरार नहीं रह सकती है. इसलिए अगर आपको इनमें से कोई भी बुरी आदत है, तो उस आदत को जल्द छोड़ दें.
  • पूरी नींद नहीं लेना – आज के जमाने में ज्यादातर लोग पूरी नींद नहीं लेते हैं और इसके कारण भी उनकी त्वचा पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है. इसलिए अगर आप चाहते हैं कि आपकी त्वचा चमकती रहे तो हर दिन 6 से 8 घंटे की भरपूर नींद जरूर लें.
  • Healthy भोजन नहीं करना – फास्ट फूड के बदले वैसा भोजन करें जिसमें हरी साग-सब्जियाँ सम्मिलित हों. अन्यथा आप कई समस्याओं से घिर जायेंगे.
  • तनावग्रस्त रहना – अगर आप हमेशा तनावग्रस्त रहेंगे तो खानपान में सुधार और अन्य आदतों को सुधार करने के बावजूद आपकी त्वचा में चमक नहीं मौजूद रहेगा इसलिए अगर आप अपनी त्वचा को जवां दिखाना चाहते हैं तो तनाव को गुड बाय बोल दीजिए.

  • त्वचा को जवां बनाये रखने के उपाय
    Twacha ko jawan bnaye rkhne ke upay

  • हर दिन व्यायाम कीजिए और अगर आप व्यायाम नहीं कर सकते हैं तो मॉर्निंग वॉक कीजिए इससे आपके शरीर का रक्त संचार बढ़ेगा और जब रक्त संचार बढ़ेगा, तो आपकी त्वचा की चमक खुद-ब-खुद बढ़ेगी.
  • आम, जामुन, संतरा, मौसमी, लीची, सेब, अंगूर, नाशपाती, पपीता, अनार, इत्यादि में से कोईं भी फल दिन में एक दो बार जरुर खाइए. ये फल आपकी त्वचा को भरपूर पोषण देंगे.
  • अगर आपका वजन ज्यादा है तो सबसे पहले अपने वजन को कम कीजिए क्योंकि अधिक वजन होने के कारण कम उम्र का व्यक्ति भी अधिक उम्र का लगता है और वजन संतुलित रहने से अधिक उम्र का व्यक्ति भी कम उम्र का लगता है.
  • कब्ज की समस्या के कारण भी कई रोग होते हैं और चेहरे में चमक नहीं रहती है. इसलिए हर दिन भींगे चने को अपने भोजन में शामिल जरूर करें और सुबह और दोपहर में भीगे चने का सेवन जरूर करें. इससे आपको कब्ज की समस्या से बहुत राहत मिलेगी और जब कब्ज कम होगा तो कोई प्रकार की बीमारियों और त्वचा संबंधित शिकायतें खुद दूर हो जाएँगी.
  • पहली बात मेकअप ज्यादा ना करें, दूसरी बात जब-जब बहुत ज्यादा जरूरी हो तब ही मेकअप करें. क्योंकि ज्यादा मेकअप करने से भी त्वचा अपनी असली कोमलता और चमक खो देती है.
  • विटामिन डी से युक्त भोजन करें और सूरज की रोशनी में भी बैठें ताकि आपकी हड्डियां मजबूत रह सकें क्योंकि हड्डियां मजबूत होगी तभी आपकी त्वचा सुंदर और आकर्षक दिखेगी.
  • समय से भोजन करें क्योंकि समय से भोजन किए बिना आपकी त्वचा कभी भी कांतिमय नहीं दिख सकती है.
  • मौसम के अनुसार जो-जो फल मिल सकें उन फलों का सेवन जरूर करें क्योंकि फलों के नियमित सेवन से भी त्वचा में चमक जरुर बनी रहती है.

 


  • जवां दिखने के लिए क्या-क्या न करें
    Jawan Dikhne ke liye kya-kya na karein

  • अपने चेहरे को कभी भी रगड़कर न पोछें.
  • गर्म पानी से अपने चेहरे को न धोएँ.
  • मॉश्चराइजर का उपयोग करना न भूलें.
  • कड़ी धूप में निकलना हो तो सनस्क्रीन लोशन का उपयोग जरूर करें.
  • नकारात्मक सोच आपकी त्वचा पर भी नकारात्मक प्रभाव डालती है इसलिए नकारात्मक सोच से बचे रहने की कोशिश करें.
  • हर दिन योग करना शुरू करें इससे आपको बहुत फायदा होगा.

 

गुस्से को नियंत्रित करने के 16 टिप्स How to Control Anger in Hindi get rid gussa

how to control anger in hindi – गुस्से को नियंत्रित करने के टिप्स – how to control anger in hindi – गुस्से को नियंत्रित करने के टिप्स – how to control anger in hindi – गुस्से को नियंत्रित करने के टिप्स – how to control anger in hindi – गुस्से को नियंत्रित करने के टिप्सगुस्से को नियंत्रित करने के 16 टिप्स How to Control Anger in Hindi get rid gussa

गुस्से को नियंत्रित करने के 16 टिप्स How to Control Anger in Hindi get rid gussa

  • गुस्से को नियंत्रित करने के टिप्स

 

rel="stylesheet">
  • सबसे पहले आपको यह बात माननी होगी कि गुस्सा करना आपकी कमजोरी है. और आप अपनी इस कमजोरी को जड़ से खत्म करना चाहते हैं.
  • पूर्व की स्थितियों का आकलन करें कि जब जब आपने गुस्सा किया हो तो आपको क्या क्या नुकसान हुआ.
    इससे आपको अपने गुस्से को नियंत्रित करने में मदद मिलेगी, क्योंकि आप गुस्से के दुष्परिणामों के प्रति जागरूक होंगे.
  • जब भी आपको गुस्सा आए तो अपनी किसी मीठी याद के बारे में सोचें, उससे आपको गुस्से को नियंत्रित करने में मदद मिलेगी.
  • अगर संभव हो तो उस स्थान से हट जाएं, जहाँ बेकार में गुस्से की स्थिति उत्पन्न हो रही हो.
  • दूसरों की बेकार की बातों का जवाब न दें और न ही किसी से बेकार में उलझें.

  • ना तो दूसरों के मामले में खुद टांग अड़ाएं और ना ही दूसरे को अपने मामले में बेकार में टांग अड़ाने दें.
  • इस बात पर गौर करें कि कहीं गुस्सा करना आपके व्यक्तित्व की एक बड़ी कमजोरी तो नहीं बन गया और
    इस कमजोरी के कारण आप उन लोगों से भी अपने संबंध खराब कर ले रहे हैं जो लोग आपको बहुत मानते हैं.
  • कुछ भी बोलने से पहले सोचने की आदत डालें इससे आपको अपने गुस्से को नियंत्रण में रखने में मदद मिलेगी.
  • कभी-कभी व्यक्ति अगर शारीरिक रूप से ज्यादा कमजोर हो जाए तो भी गुस्सा बहुत आता है,
    इस इस स्थिति में यह जरूरी है कि आप अपने स्वास्थ्य ध्यान रखें और अपनी शारीरिक कमजोरी दूर करें.
  • उस व्यक्ति के बारे में सोचें जिस व्यक्ति को आप बहुत प्यार करते हैं.
  • जिस जिस दिन भी आपने गुस्सा किया हो उस दिन रात में यह जरूर सोचें कि आप के गुस्से ने कैसे बात को बिगाड़ा.

  • अच्छे नए लोगों से मिलिए.
  • अगर आपको कोई परेशानी है तो किसी ऐसे व्यक्ति के साथ इस परेशानी को शेयर करें जो व्यक्ति वास्तव में आपका शुभचिंतक हो.
  • कई बार गुस्से का एक कारण यह भी होता है कि हम अपने जीवन में इतने व्यस्त हो जाते हैं कि खुद के लिए हैं समय नहीं निकाल पाते हैं. तो अगर आप ऐसा कर रहे हैं तो जरूरत है कि आप अपने लिए भी समय निकालें आपको जो पसंद है वह करें, जहां घूमना पसंद है वहां घूमने जाएँ.
  • हर दिन सुबह उठकर पूजा करना शुरू करें.
  • यह बात याद रखें कि आप दूसरों को नहीं बदल सकते हैं इसलिए बेकार का गुस्सा करना आप को नुकसान हीं पहुंचाएगा.

 

सूर्य नमस्कार के मन्त्र और फायदे || Surya Namaskar Mantra in Hindi benefits

surya namaskar mantra in hindi – surya namaskar benefits in hindi – सूर्य नमस्कार मन्त्र इन हिंदी – सूर्य नमस्कार के फायदे – surya namaskar mantra in hindi – surya namaskar benefits in hindi – सूर्य नमस्कार मन्त्र इन हिंदी – सूर्य नमस्कार के फायदे – surya namaskar mantra in hindi – surya namaskar benefits in hindi – सूर्य नमस्कार मन्त्र इन हिंदी – सूर्य नमस्कार के फायदे – surya namaskar mantra in hindi – surya namaskar benefits in hindi – सूर्य नमस्कार मन्त्र इन हिंदी – सूर्य नमस्कार के फायदेसूर्य नमस्कार के मन्त्र और फायदे || Surya Namaskar Mantra in Hindi benefits

सूर्य नमस्कार के मन्त्र और फायदे || Surya Namaskar Mantra in Hindi benefits

 

  • योग का महायोग:- सूर्यनमस्कार
  • योग का प्रादुर्भाव भारत में हजारों वर्ष पहले हुआ, यह हमारे ऋषि-मुनियों की देन है आज योग मात्र आश्रमों और
    साधु संतों तक ही सीमित नहीं रहा बल्कि कुछ वर्षों से योग हमारे दैनिक जीवन का आधार बन गया है।
  • योग का अर्थ है जोड़ना, एक ऐसी पद्धति जिसके द्वारा व्यक्ति अपनी अंतर्निहित शक्तियों को संग्रहित रूप से विकसित
    करके आत्मा को सर्वव्यापी परमात्मा से जोड़ सकता है।

 

rel="stylesheet">
  • सूर्य नमस्कार को योगासनों में सर्वश्रेष्ठ कहा गया है। यह अकेला अभ्यास ही साधक को सम्पूर्ण योग व्यायाम का लाभ पहुॅचाने में समर्थ है । इसके अभ्यास से शरीर में आरोग्य, शक्ति एवं ऊर्जा की प्राप्ति होती है। साधक का शरीर नीरोग एवं स्वस्थ होकर तेजस्वी हो जाता है। इसका अभ्यास बाल, युवा, वृद्ध सभी महिला पुरूष कर सकते है ।
  • ऋग्वेद में लिखा है- “ सूर्यो वै आत्मा जगतस्तस्युश्च”
  • अर्थात सूर्य ही सारे संसार की आत्मा है।
  • Importance of Sun – सूर्य का महत्व:-

  • सूर्य प्रत्यक्ष दिखायी देने वाले भगवान है, सूर्य के दर्शन मात्र से मन प्रसन्न होकर बुद्धि तेजस्वी एवं प्रतिभा सपन्न होती है, व तेज एवं शक्ति शरीर मे प्रवेश करती है। सूर्य की किरणो से कीटाणुओ का नाश होकर हवा शुद्ध होती है। सूर्य के कारण ही जल का वाष्प मे परिवर्तन होकर वर्षा होती है। सूर्य के कारण ही वनस्पती, वृक्ष, पशु-पक्षी, मनुष्य, प्राणी इन सबका अस्तित्व है। सूर्य के कारण ही हमे प्रकृति पत्ते, फूल, फल, सब्जियां, धन-धान्य भरपूर मात्रा मे उपलब्ध होते है। हमारा सारा जीवन इसी पर निर्भर हैं संपूर्ण प्रकृति का चक्र सूर्य पर ही निर्भर है।
  • सूर्य नमस्कार: सभी के लिये सर्वांग सुन्दर व्यायाम:-
  • आजकल की भागदौड एवं स्पर्धात्मक जीवन शैली मे व्यायाम के लिये आवश्यक समय निकाल पाना हर एक के लिये सम्भव नहीं है। बैठी जीवन शैली, कम्प्यूटर के सामने घन्टो बैठे काम करना, खाने मे फास्ट फूड्स का प्रयोग, अधिकाधिक अंक या धन प्राप्त करने के प्रयासों में आने वाला तनाव और व्यायाम के अभाव में तरूणाई में उच्च रक्तदाब, मधुमेह, हदयविकार, संधिवात, मानसिक दुर्बलता ऐसी अनेक बीमारियां बढती जा रही है। इन सबसे छुटकारा पाने के लिये प्रतिदिन कम से कम 13 सूर्यनमस्कार करना एक रामबाण इलाज है।
  • सूर्यनमस्कार: एक आराधना:-

  • व्यायाम के बहुत प्रकार है। कई लोग अपनी अपनी पद्धति को निष्ठा एवं श्रद्धा से स्वीकार करते है। इसके बावजूद सभी समाजो द्वारा सहज रूप से स्वीकार्य यह सूर्यनमस्कार का योग अब सारी दुनिया स्वीकार कर रही है। बडे स्तर पर योगशास्त्र पर प्रयोग एवं शोध शुरू हो चुके है। सूर्यनमस्कार पर भी इस प्रकार के प्रयोग एवं शोध चल रहे है। सूर्यनमस्कार के संख्यात्मकता एवं गुणात्मकता से होने वाले फायदे एंव सूर्यशक्ति से होने वाले फायदे वर्तमान समय में सूचीबद्ध किये जा रहे है। शरीर के स्वास्थ्य लाभ के लिये बहुत महत्वपूर्ण है, निष्ठा एव श्रद्धा से प्रतिदिन सूर्यनमस्कार करना एक आराधना ही है। यह बात ध्यान देने योग्य है कि सूर्यभगवान की इस आराधना मे जाति, धर्म, पंथ इत्यादि का बंधन आडे नही आता है और इसी कारण सूर्यनमस्कार व्यायाम को आराधना का महत्व प्राप्त है। सारी दुनिया इस उपासना पद्धति को स्वीकार भी करती है। जैसे-जैसे विज्ञान की उन्नति होगी सूर्यनमस्कार का महत्व दुनिया के सामने और अधिक स्पष्ट होता जायेगा। आवश्यक यह है, कि प्रत्येक व्यक्ति द्वारा इसका अनुभव किया जावे एवं इसका प्रचार-प्रसार किया जावें।

 

  • Surya Namaskar Yoga Benefits in Hindi

  • सूर्यनमस्कार के लाभ
  • इससे शारीरिक, मानसिक और बौद्धिक विकास होता है, शरीर मे संयम आकर अहंकार मे कमी आती है।
    तेज और शक्ति का संचार होता है। शरीर के सभी अवयव, जोड एवं मांस पेशियाँ कार्यक्षम होकर शरीर लचीला
    एवं मजबूत बनता है। दीर्धायु प्राप्त होती है, मन एकाग्रचिंत्त होता है, व शरीर निरोगी रहता है। उत्तम स्वास्थ्य का
    मतलब है, शारीरिक, मानसिक, आध्यात्मिक और सामाजिक स्वास्थ्य, और यह प्रतिदिन सूर्यनमस्कार करने
    से प्राप्त होता है। एक स्वस्थ शरीर मे ही स्वस्थ मन निवास करता है।
  • इसको करने से विधार्थी की स्मरण शक्ति बढ जाती है। जिससे उन्हे परीक्षा परिणाम तथा प्रतियोगी परीक्षाओ मे आशातीत सफलता मिलती है। खिलाडियो को भी सूर्यनमस्कार कराने से उनके शरीर मे लचीलापन, शक्ति एवं मानसिक क्षमता का विकास होता हे। सिंगापुर के स्पोर्ट्स साइंस सेन्टर (जहां प्रतिवर्ष एशियाई खेलो में पदक प्राप्त करने वाले खिलाडी तैयार होते है।) पर सूर्य नमस्कार तथा अन्य व्यायामो की तुलना करने के पश्चात् काॅर्टेक्स मशीन पर जांच करने से बहत ही अच्छे परिणाम मिले है।
  • सूर्य नमस्कार करने से शारीरिक व मानसिक क्षमता के साथ-साथ 100 वर्षे तक निरोगी जीवन जिया जा सकता है।
    छत्रपति शिवाजी के गुरू समर्थ गुरू रामदास तथा श्री माघव राव गोलवलकर (श्री गुरू जी) भी प्रतिदिन सूर्य नमस्कार करते थें।
  • सूर्यनमस्कार व श्वसन
  • सूर्यनमस्कार में श्वसन का अत्यंत महत्व है। श्वसन का रक्तशुति एवं रक्तसंचार से सीधा संबंध है।
    श्वसन नाक से ही करें तथा वह शांत एवं लयबद्ध हो। श्वसन की तीन क्रियांये होती है –
  • पूरक, रेचक, कुंभक इन तीन क्रियाओं के करने में फेफड़ो का पूर्ण क्षमता से उपयोग होता है, जिससे श्वसन का मार्ग खुलता है । प्राणायाम के सभी फायदे इसी से मिलते है।

 

  • Surya Namaskar Mantra in Hindi

  • सूर्य के नाम: नाम मंत्र
  • प्रतिदिन 13 सूर्यनमस्कार करते समय प्रत्येक सूर्यनमस्कार के साथ एक एक सूर्य का नाम बोलना चाहिए।
  • 1. ओम मित्राय नमः।                     7.    ओम हिरण्यगर्भाय नमः।
  • 2. ओम रवये नमः।                      8.    ओम मरीचये नमः।
  • 3. ओम सूर्याय नमः।                     9.    ओम आदित्याय नमः।
  • 4. ओम भानवे नमः।                     10.   ओम सवित्रें नमः।
  • 5. ओम खगाय नमः।                     11.    ओम अर्काय नमः।
  • 6. ओम पूष्णे नमः।                      12.   ओम भास्कराय नमः।
  • 13. ओम श्री सवितृ सूर्यनारायणाय नमः।
  • सूर्य नमस्कार खुली शुद्ध हवा में, स्वच्छ स्थान पर करना चाहिए।  इस योग से रक्त संचार एवं अन्य क्रियाएं लयबद्ध होती है। अनैच्छिक क्रियाओं पर नियंत्रण रहता है और रोगों का निवारण होता है। यह योग निरामय एवं दीर्धायु जीवन के लिए लाभदायक है।
  • योग के अनेकों लाभों का ध्यान में रखते हुए माननीय श्रीमान नरेन्द्र जी मोदी के अथक प्रयास से ही 21 जून को 2015 को योग दिवस के रूप में मनाने के लिए  अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस घोषित किया गया । वर्तमान में पूर्ण विश्व में योग दिवस को सभी सरकारी एवं गैर सरकारी संगठनो द्वारा इसे भारी समर्थन मिला है एवं पूर्ण क्रियान्विति की गई है।
  • रामचन्द्र स्वामी (अध्यापक)
  • रा. उ. मा. वि. नत्थूसर गेट, बीकानेर

 

error: Content is protected !!