बेटियों पर हिन्दी कविता – Hindi Poem On Betiyan – Beti Par Kavita :

Hindi Poem On Betiyan – बेटियों पर हिन्दी कविता
बेटियों पर हिन्दी कविता - Hindi Poem On Betiyan - Beti Par Kavita

Hindi Poem On Betiyan

  • बेटी
  • “वो पवित्र गीता की दोहा है”
    बेटी सुख की संभावना है,
    बेटी ईश्वर की आराधना है।
    बेटी है तो ये सुन्दर सा जहां है,
    बेटी नहीं तो मानव का अस्तित्व कहाँ है?
    बेटी होगी तो, घर में पायल की छन-छन होगी,
    बेटी होगी तो, घर में ख़ुशी से भरी कण-कण होगी।
    बेटी पावन पूजा है,
    बेटी के जैसा ना कोई दूजा है।
    बेटी प्रयाग की पवित्र संगम है,
    बेटी है, तो भरतनाट्यम है।
    बेटी सबसे पूजनीय धर्म है,
    जो हर वेदना सह ले, बेटी वो मर्म है।
    बेटी है तो काजल, मेहँदी, बिंदिया और सिंदूर है,
    बेटी नहीं, तो ये सारे श्रृंगार नहीं।
    आज बेटी ने अपने हुनर से विश्व भर को मोहा है,
    इक दिन गौर से उसे पढ़ना तुम, वो पवित्र “गीता” की दोहा है।
    – हिमांशु शर्मा
  • “vo pavitr geeta kee doha hai”
    betee sukh kee sambhaavana hai,
    betee eeshvar kee aaraadhana hai.
    betee hai to ye sundar sa jahaan hai,
    betee nahin to maanav ka astitv kahaan hai?
    betee hogee to, ghar mein paayal kee chhan-chhan hogee,
    betee hogee to, ghar mein khushee se bharee kan-kan hogee.
    betee paavan pooja hai,
    betee ke jaisa na koee dooja hai.
    betee prayaag kee pavitr sangam hai,
    betee hai, to bharatanaatyam hai.
    betee sabase poojaneey dharm hai,
    jo har vedana sah le, betee vo marm hai.
    betee hai ,to kaajal,mehandee, bindiya aur sindoor hai,
    betee nahin, to ye saare shrrngaar nahin.
    aaj betee ne apane hunar se vishv bhar ko moha hai beti,
Related Posts  माखनलाल चतुर्वेदी की कविताएँ - Makhanlal Chaturvedi Poem in Hindi

.

Previous माता-पिता पर हिन्दी कविता – Poem On Parents in Hindi :
Next काश वो दिन न आता – Sad Love Poem in Hindi For Boyfriend :

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.