न्याय शायरी ⚖ Justice quotes in Hindi Status

Justice quotes in Hindi
Justice quotes in Hindi न्याय शायरी

Justice Quotes in Hindi – इस दुनिया में न्याय पाना आसान नहीं होता. न्याय व्यवस्था की अपनी खूबियाँ और विसंगतियाँ हैं. खासतौर पर जब आप आम इन्सान हों. जितनी बड़ी अदालत उतना बड़ा वकील, जितना बड़ा वकील उतनी ज्यादा फीस, सुबूतों और गवाहों की चिंता, सुनवाई की एक के बाद एक तारीखें, अक्सर वर्षों और कभी-कभी दशकों का इंतजार. कभी-कभी समाज और हमें पहचानने वाले लोग सही मौकों पर हमारा साथ नहीं देकर हमारे साथ अन्याय करते हैं. जीवन में न्याय-अन्याय का चक्र यूँ हीं चलता रहता है.

Tags: Here you will read god justice quotes, social justice status, shayari on karma and justice, international justice day quotes, Bitter quotes on justice, Law and justice, Cost of justice, Delay in justice status, Battle of justice, Negative side of Indian Judicial system, Lawyers and justice, Waiting time for justice.

Justice Quotes in Hindi

  • Quote 1: Justice is that which separates milk and water, not that he himself falls in the deceit of papers, himself in the web of hypocrites.
    In Hindi: न्याय वह है जो कि दूध का दूधपानी का पानी कर देयह नहीं कि खुद ही कागजों के धोखे में आ जाएखुद ही पाखंडियों के जाल में फँस जाए.

    प्रेमचंद Premchand
  • Quote 2: Doing justice is not as difficult as mitigating injustice.
    In Hindi: अन्याय का शमन करना ज्यादा मुश्किल है न्याय करने की तुलना में.

    प्रेमचंद Premchand
  • Quote 3: Justice and policy are all two toys of Lakshmi, she makes them dance as she wants.
    In Hindi: न्याय और नीति सब लक्ष्मी के दो खिलौने हैं, इन्हें वह जैसे चाहती है नचाती है.
प्रेमचंद Premchand
  • Quote 4: The millstone of divine justice, although it moves at a slow speed, but it definitely moves.
    In Hindi: ईश्वरीय न्याय की चक्की यद्यपि मंद गति से चलती है, किन्तु चलती अवश्य है.
जार्ज हर्बर्ट George Herbert
  • Quote 5: Common people have little to no knowledge of the laws, and the touts present in the courts take advantage of this and loot a lot of money from them.
    In Hindi: आम लोगों को कानूनों की जानकारी नहीं के बराबर है, और अदालतों में मौजूद दलाल इसी का फयदा उठाकर उनसे खूब पैसे लुटते हैं.
  • Quote 6: When people pay the price of getting justice by losing age, money, peace, health everything. So even after getting justice, they feel cheated.
    In Hindi: जब लोग न्याय पाने की कीमत जब उम्र, पैसे, सुकून, स्वास्थ्य सब कुछ गंवाकर चुकाते हैं. तो न्याय पाने के बाद भी वे खुद को ठगा हुआ महसूस करते हैं.
  • Bitter quotes on justice:
    1. जस्टिस मिलने में देर होने का अर्थ है अन्याय होना.
    2. न्याय मिलना आसान नहीं होता है, क्योंकि जुडिशल सिस्टम में भी भरपूर भ्रष्टाचार फैला हुआ है.
    3. न्यायालय से इंसाफ की उम्मीद सभी को होती है, लेकिन एक आम आदमी न्यायालय से कोसों दूर भागता है, क्योंकि न्यायालय का चक्कर अक्सर सीधे-साधे लोगों की जिंदगी बर्बाद कर देता है.
    4. Courts में भरपूर भ्रष्टाचार व्याप्त है.
    6. कानूनों का मकड़जाल लोगों को न्यायपालिका से दूर रहने पर मजबूर करता है.
    7. अच्छे कानूनों के बिना न्यायपालिका महज मजाक.
    8. Cost of justice: न्याय के लिए लड़ाई की महँगी कीमत चुकानी पड़ती है.
    9. अदालत के चक्कर में क्या-क्या खोना पड़ता है, यह उस व्यक्ति से पूछिए जिसने वर्षों कोर्ट में कोई केस लड़ा हो.
    Delay in justice status:
    1: जब लोग मिलकर कहते हैं कि हमें न्याय चाहिए. तब संसद व्यवस्था में बदलाव लाने पर मजबूर होती है.
    2: Battle of justice: लोग यह कहते जरुर हैं कि उन्हें न्याय चाहिए, लेकिन इसके लिए लड़ना किसी को पसंद नहीं होता.
    3: न्याय पाने की आस में अक्सर लोगों की जिंदगी बर्बाद हो जाती है
    जिंदगी से सुकून गायब हो जाता है, रातों की नींद गायब हो जाती है.

भारतीय न्याय व्यवस्था के नकारात्मक पक्ष – Caption

Negative side of Indian Judicial system caption:
1: भारतीय न्याय व्यवस्था में परिवारवाद फैला हुआ है.
2: Judicial system: न्याय व्यवस्था बड़े लोगों के हाथों की कठपुतली बन चुकी है.
3: भारत में लोगों को न्याय खरीदना पड़ता है
न्यायालय का खर्च उठाने के लिए घर तक बेचना पड़ता है.
4: न्याय व्यवस्था एक मकड़जाल है, जिसमें फंसने के बाद बाहर निकलना मुश्किल होता है.
5: कुछ वकील परजीवी होते हैं, जो न्याय व्यवस्था का हिस्सा रहकर भी उसे हीं नुकसान पहुंचाते रहते हैं.
6: Duration of justice: न्याय कुछ महीनों में मिलना चाहिए ना कि सालों में.
7: बेमतलब के कानूनों का जाल न्याय व्यवस्था को सुस्त बनाता है
यह जाल ना जाने कितने आम लोगों के जीवन को नर्क बना जाता है.
8: लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ बड़े लोगों की जागीर बनकर रह गया है.

न्यायालय शायरी

  • Goddess of justice:
    अदालतों का जनता के जरूरी मुद्दों पर कभी स्वतः संज्ञान नहीं लेना
    क्या इसका कारण है कानून की देवी के आँखों में पट्टी का बंधा होना.
  • Giant advocates:
    बड़े वकीलों के लिए रात में भी कोर्ट के दरवाजे खुल जाते हैं
    और आम लोग वर्षों लाइन में खड़े-खड़े इंतजार करते रह जाते हैं.
  • Conspiracy in court: 
    कोर्ट के कर्मचारी, वकील और जज मिलकर तारीख पर तारीख का खेल खेलते हैं
    आम लोग इस मकड़ जाल में फंसते हैं, तो फिर बड़ी मुश्किल से निकलते हैं.
  • Out of court settlement: 
    आदर्शवादी बनकर न्यायालय के चक्कर कौन लगाए ?
    लेट-लतीफी से मिलने वाले न्याय के लिए कौन अपनी सारी उम्र गंवाए.
  • Money is fuel in court: 
    बिना पैसे दिए न्यायालय में कोई फाइल आगे नहीं बढ़ती
    ठीक वैसे हीं जैसे इंधन के बिना गाड़ी नहीं चलती.


2: न्यायाधीशों और सरकारों को इस बात की कोशिश करनी चाहिए कि जस्टिस में बेमतलब में लगने वाला वक्त ना लगे. तब लोगों को courts से डर नहीं लगेगा.
3: Lawyers: बड़े-बड़े वकील न्यायालयों को भी अपनी जेब में रखते हैं, और यह स्थिति बताती है कि justice खरीदना पड़ता है खुद मिलता नहीं है.

Don’t forget to share these justice quotes shayari status in Hiindi.