अभिनेत्री मीना कुमारी के शेर – Meena Kumari Shayari in Hindi

मीना कुमारी की शायरी - Meena Kumari Shayari in Hindi Language


भारतीय फिल्म अभिनेत्री मीना कुमारी की शायरी हमें उनके अलग हीं रूप से मिलवाती है. ट्रैजेडी क्वीन की शायरी ( Meena Kumari Shayari in Hindi )  का संकलन पढ़ना यकीनन आपके लिए एक बेहतरीन अनुभव होगा. ट्रैजेडी क्वीन मीना कुमारी बेहतरीन अभिनेत्री होने के साथ-साथ शायारा एवम् पार्श्वगायिका भी थीं. मीना कुमारी के जीवित रहते उनकी शायरी ज्यादा लोगों तक नहीं पहुंच पाई थी. आज भी ज्यादा लोग नहीं जानते हैं कि मीना कुमारी के पास सुंदर लेखन की भी कला थी.

Meena kumari shayari in Hindi 1 से 7

Shayari 1:
टुकड़े-टुकड़े दिन बीता, धज्जी-धज्जी रात मिली
जिसका जितना आँचल था, उतनी ही सौगात मिली.
– मीना कुमारी ( Meena Kumari shayari in Hindi )

Shayari 2:
जब चाहा दिल को समझें, हँसने की आवाज़ सुनी
जैसे कोई कहता हो, ले फिर तुझको मात मिली.
– मीना कुमारी ( Meena Kumari )

Shayari 3:
अकेलेपन के अन्धेरें में दूर दूर तलक
यह एक ख़ौफ़ जी पे धुँआ बनके छाया है
फिसल के आँख से यह छन पिघल न जाए कहीं
पलक पलक ने जिसे राह से उठाया है.
– मीना कुमारी ( Meena Kumari shayari in Hindi )

Shayari 4:
इतना कह कर बीत गई हर ठंडी भीगी रात
सुखके लम्हे, दुख के साथी, तेरे ख़ाली हात.
– मीना कुमारी ( Meena Kumari )

Shayari 5:
मातें कैसी घातें क्या, चलते रहना आठ पहर
दिल-सा साथी जब पाया, बेचैनी भी साथ मिली.
– मीना कुमारी ( Meena Kumari shayari in Hindi )

Shayari 6:
जब ज़ुल्फ़ की कालिख़ में घुल जाए कोई राही
बदनाम सही लेकिन गुमनाम नहीं हॊता.
– मीना कुमारी ( Meena Kumari )

Shayari 7:
ये रात
ये तन्हाई
ये दिल के धड़कने की आवाज़
ये सन्नाटा
ये डूबते तारों की
ख़ामोश ग़ज़ल-कहानी.
– मीना कुमारी ( Meena Kumari shayari in Hindi )

मीना कुमारी का असली नाम महज़बीन बानो था. फ़िल्मी दुनिया में उनका नाम मीना कुमारी रखा गया.

मीना कुमारी की शायरी – 8 से 15

मीना कुमारी के शेर

Meena Kumari Shayari on love

Shayari 8:
आगाज़ तॊ होता है अंजाम नहीं होता
जब मेरी कहानी में वॊ नाम नहीं होता. – मीना कुमारी

Shayari 9:
मातें कैसी घातें क्या, चलते रहना आठ पहर
दिल-सा साथी जब पाया, बेचैनी भी साथ मिली. – मीना कुमारी

Shayari 10:
सब तुम को बुलाते हैं
पल भर को तुम आ जाओ
बंद होती मेरी आँखों में
मुहब्बत का
एक ख़्वाब सजा जाओ. – मीना कुमारी

मीना कुमारी का बचपन गरीबी में बीता.

मीना कुमारी शायरी:

Meena Kumari Shayari on heart

Shayari 11:
दिल से अनमोल नगीने को छुपायें तो कहाँ
बारिशे-संग यहाँ आठ पहर होती है. – मीना कुमारी

Shayari 12:
बैठे हैं रास्ते में, दिल का खंडहर सजा कर
शायद इसी तरफ़ से, एक दिन बहार गुज़रे. – मीना कुमारी

फिल्म निर्देशक कमाल अमरोही से मीना कुमारी ने निकाह किया था.

Love Par Meena Kumari ke sher

Shayari 13:
हँस-हँस के जवां दिल के हम क्यों न चुनें टुकडे़
हर शख्स़ की किस्मत में ईनाम नहीं होता. – मीना कुमारी

Shayari 14:
तूने भी हमको देखा हमने भी तुझको देखा
तू दिल ही हार गुज़रा, हम जान हार गुज़रे. – मीना कुमारी

Shayari 15:
तेरी आवाज़ में तारे से क्यों चमकने लगे
किसकी आँखों की तरन्नुम को चुरा लाई है
.किसकी आग़ोश की ठंडक पे है डाका डाला
किसकी बांहों से तू शबनम उठा लाई है. – मीना कुमारी

अपनी शादी के बाद, कमाल अमरोही ने मीना कुमारी को अपने फ़िल्मी करियर को जारी रखने की अनुमति दी, लेकिन इस शर्त पर कि वे अपने मेकअप रूम में उनके मेकअप आर्टिस्ट के अलावा किसी और पुरूष को नहीं बुलाएंगी और हर शाम 6:30 बजे तक केवल अपनी कार में ही घर लौटेंगी.

Meena Kumari Hindi shayari 16 से 23

Meena Kumari Shayari on heart in Hindi

Shayari 16:
मिल गया होगा अगर कोई सुनहरी पत्थर,
अपना टूटा हुआ दिल याद तो आया होगा. – मीना कुमारी

Shayari 17:
दिल से अनमोल नगीने को छुपायें तो कहाँ
बारिशे-संग यहाँ आठ पहर होती है. – मीना कुमारी

Shayari 18:
दिन डूबे हैं या डूबे बारात लिये कश्ती
साहिल पे मगर कोई कोहराम नहीं होता. – मीना कुमारी

मीना के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं कि वे कवियित्री भी थीं लेकिन कभी भी उन्होंने अपनी कवितायें छपवाने की कोशिश नहीं की. उनकी लिखी कुछ उर्दू की कवितायें नाज़ के नाम से बाद में छपी.

Shayari 19:
हाँ, कोई और होगा तूने जो देखा होगा
हम नहीं आग से बच-बचके गुज़रने वाले. – मीना कुमारी

Shayari 20:
हाँ, बात कुछ और थी, कुछ और ही बात हो गई
और आँख ही आँख में तमाम रात हो गई. – मीना कुमारी

Shayari 21:
आबला-पा कोई इस दश्त में आया होगा
वर्ना आँधी में दिया किस ने जलाया होगा. – मीना कुमारी

Life Par Meena Kumari Ki Shayari

Shayari 22:
यह न सोचो कल क्या हो
कौन कहे इस पल क्या हो. – मीना कुमारी

Shayari 23:
न इन्तज़ार, न आहट, न तमन्ना, न उमीद
ज़िन्दगी है कि यूँ बेहिस हुई जाती है. – मीना कुमारी

हमें उम्मीद है आपको Meena Kumari Shayari in Hindi आपको पसंद आया होगा. मीना कुमारी की ज्यादातर शायरी सैड हैं, लेकिन उनमें एक अलग हीं चमक है. एक अभिनेत्री के रूप में मीना कुमारी जिन्हें भी पसंद होंगी, उन्हें उनकी रचनाएँ जरुर पसंद आई होंगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.