Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content

15 Myths in Hindi about Mahwari period पीरियड के बारे में मिथक masik dharm :

Myths in Hindi About Mahwari Period Masik Dharm – पीरियड के बारे में मिथक15 मिथक पीरियड्स के बारे में - Myths in Hindi About Mahwari Period Masik Dharm

Myths in Hindi about Mahwari period

  • आइए हम जानते हैं कि मासिक धर्म के बारे में हमारे समाज में क्या-क्या मिथक फैले हुए हैं. पीरियड्स के बारे में फैले हुए ऐसी भ्रामक बातें महिलाओं को बेवजह परेशान करती है. और इन मिथकों का नतीजा ये होता है कि महिलाएँ मानसिक रूप से परेशान रहती हैं. तो आइए जानते हैं माहवारी से जुड़े ऐसे हीं मिथकों को.
  • लोगों में सबसे पहला मिथक यह है कि मासिक धर्म 28 दिन के बाद होता है. जबकि वास्तविकता में यह जरूरी नहीं है कि हर महिला का पीरियड 28 दिन के बाद हीं आए. अलग-अलग महिलाओं का पीरियड देर से या जल्दी भी आता है. और कभी-कभी एक हीं महिला का पीरियड भी जल्दी या देर से आ सकता है. यह सामान्य बात है जल्दी या देरी से मासिक आने पर परेशान नहीं होना चाहिए.
  • पीरियड्स में बाल नहीं धोने चाहिए, यह मिथक भी समाज में फैला हुआ है. जबकि सच्चाई यह है कि माहवारी के दौरान बाल धोने में कोई परेशानी नहीं है.
  • पीरियड्स के दौरान स्कूल, कॉलेज या ऑफिस नहीं जाना भी एक बचकानी सोच है. आप सैनेटरी पैड का उपयोग कर आसानी से किसी भी जगह आ जा सकती हैं.
  • महिलाओं में यह भ्रम भी होता है कि पीरियड्स के दौरान रक्त निकलता है इसलिए कमजोरी हो जाती है. जबकि सच्चाई यह है कि मासिक धर्म के दौरान 4-5 चम्मच हीं खून निकलता है. अगर आपके शरीर में पहले से खून की कमी नहीं है तो ये 4-5 चम्मच खून आपको बिल्कुल भी कमजोर नहीं करेंगे.
  • लोगों में एक भ्रम यह भी है कि पीरियड्स का रक्त गंदा होता है. जबकि वास्तव में ऐसी कोई बात नहीं होती है. मासिक धर्म का रक्त भी सामान्य रक्त हीं होता है.

  • पीरियड में व्यायाम नहीं करना चाहिए यह भी एक मिथक है. आप सामान्य व्यायाम कर सकती हैं इससे कोई परेशानी नहीं होगी.
  • आप पीरियड्स में Swimming भी कर सकती हैं, इससे आपको कोई Problem नहीं होगी.
  • पीरियड्स के दौरान भी आप सेक्स कर सकती हैं, बशर्ते आप और आपका पार्टनर सम्बन्ध बनाने के लिए सहमत हों. हाँ यह जरूर है कि इस दौरान कॉन्डोम का उपयोग करना बेहतर रहता है.
  • मासिक धर्म के दौरान होने वाले दर्द या ऐठन से आपको तबतक परेशान होने की जरूरत नहीं है जबतक कि पीरियड्स के बाद भी आप दर्द से परेशान न हों.
  • यह सच है कि पीरियड्स के दौरान सम्बन्ध बनाने से गर्भ ठहरने की सम्भावना कम होती है. लेकिन असुरक्षित सम्बन्ध बनाने से गर्भ ठहर सकता है. इसलिए बेहतर यही होगा कि मासिक के दौरान सम्बन्ध बनाते वक्त भी कॉन्डोम या गर्भनिरोधक गोली का इस्तेमाल करें.
  • मासिक धर्म के दौरान भी आप कोई भी चीज खा सकती हैं, किसी चीज को इस दौरान छोड़ना जरूरी नहीं है.
  • महिलाओं में यह भ्रम भी होता है कि मासिक धर्म शुरू होने से पहले हीं उसके चिन्ह दिखाई देने लगते हैं. जबकि इस बात में कोई सच्चाई नहीं है.
  • लोगों में यह भ्रम भी है कि पहली बार पीरियड आने के बाद डॉक्टर से मिलना चाहिए. जबकि सच्चाई यह है कि आपको तबतक डॉक्टर से मिलने की जरूरत नहीं है जबतक कोई बड़ी परेशानी न हो.
  • महिलाओं में यह भी भ्रम है कि अगर वो अपनी बेटी से पीरियड के बारे में बात करेंगी, तो उनकी बेटी परेशान होगी. जबकि सच्चाई इसके उलट है, माँ अपनी बेटी को पीरियड के बारे में जितनी ज्यादा जानकारी देगी पीरियड बेटी के लिए उतना हीं आसान हो जाएगा.
  • कभी-कभी पीरियड्स का आगे-पीछे होना सामान्य बात है इसलिए इसे लेकर परेशान नहीं होना चाहिए.

.

About Suvichar Hindi .Com ( Read here SEO, Tips, Hindi Quotes, Shayari, Status, Poem, Mantra : )

SuvicharHindi.Com में आप पढ़ेंगे, Hindi Quotes, Status, Shayari, Tips, Shlokas, Mantra, Poem इत्यादि|
Previous कड़वे प्रवचन हिंदी में – Kadve Pravachan in Hindi किसी के Professional Life की सफलता :
Next लीची खाने के 16 फायदे || Litchi Fruit Benefits in Hindi beej powder बीज पाउडर :

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.