Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content

नेवर गिव अप कोट्स इन हिंदी || Never Give Up Quotes in Hindi

Never Give Up Quotes in Hindi – नेवर गिव अप कोट्स इन हिंदीNever Give Up Quotes in Hindi

नेवर गिव अप कोट्स इन हिंदी || Never Give Up Quotes in Hindi

  • कभी-कभी हमारे दोनों हाथ अनुपयोगी चीजों से भरे होते हैं और तब ईश्वर हमारे दोनों हाथों को खाली कर देता है. ताकि वह हमारे दोनों हाथों में नए उपहार थमा सके. दूसरे शब्दों में कभी-कभी नई शुरुआत से पहले सबकुछ खत्म होना जरूरी होता है.
  • Never Give Up क्योंकि कभी-कभी आखिरी गेंद पर हार या जीत का निर्णय होता है.
  • उम्मीद और प्रेरणा का दामन थामकर आप नकारात्मक स्थिति को भी हरा सकते हैं.
  • Never Give Up क्योंकि कभी-कभी हम तब हार मान लेते हैं जब हम जीत से कुछ हीं दूर होते हैं.
  • हारने वाले और जीतने वाले में बहुत कम अंतर होता है. और हारने वाले यही छोटी सी बात नहीं समझ पाते.
    और उस अंतर को दूर करने की उचित चेष्टा नहीं करते.
  • जो लोग प्रयास करना कभी बंद नहीं करते, उनके लिए दुनिया में कुछ भी असम्भव नहीं होता.
  • जब हालात आपके खिलाफ हों, कोई भी न आपके साथ हो. तब भी हार मत मानिए.

  • यह सच है कि जब सभी लोग हौसला तोड़ने वाली बातें कर रहें हों, तब हिम्मत बनाए रखना बहुत ज्यादा कठिन होता है.
    लेकिन ऐसी परिस्थिति में भी जो दृढ़ता के साथ खड़ा रहता है, वह अंत में सभी लोगों को गलत साबित कर देता है.
  • कभी-कभी हार या जीत का निर्णय केवल हिम्मत पर निर्भर करता है.
  • मुश्किल से मुश्किल हालात में भी किसी गलत चीज से समझौता मत कीजिए.
    क्योंकि गलत रास्ते पर जाकर नहीं लौटा जा सकता है, लेकिन असीम कोशिशों से हालात को हराया जा सकता है.
  • कभी-कभी बड़ी सफलता मिलने से पहले एक साथ कई असफलताओं का सामना करना होता है.
    ऐसे वक्त में केवल मजबूती से खड़े रहने की जरूरत होती है.
  • कभी-कभी सौ बार गिरने के बाद हीं मंजिल मिलती है.

.

About Suvichar Hindi .Com ( Read here SEO, Tips, Hindi Quotes, Shayari, Status, Poem, Mantra : )

SuvicharHindi.Com में आप पढ़ेंगे, Hindi Quotes, Status, Shayari, Tips, Shlokas, Mantra, Poem इत्यादि|
Previous चाय शायरी इन हिंदी – Chai Shayari in Hindi
Next महिला दिवस शायरी – Mahila Diwas Hindi Shayari Status Quotes :

One comment

  1. Dinesh Singh

    Never give up

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.