इन्हें भी जरुर पढ़ें ➜
Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

यह गांठ आपको बना सकती है बाँझ || Pcod Problem Solution in Hindi

pcod problem solution in hindi – यह गांठ आपको बना सकती है बाँझ || Pcod Problem Solution in Hindi – यह गांठ आपको बना सकती है बाँझ || Pcod Problem Solution in Hindi – यह गांठ आपको बना सकती है बाँझ || Pcod Problem Solution in Hindiयह गांठ आपको बना सकती है बाँझ || Pcod Problem Solution in Hindi

यह गांठ आपको बना सकती है बाँझ || Pcod Problem Solution in Hindi

 

 

  • PCOS PCOD महिलाओं को होने वाली एक बीमारी है. 10 में से 1 महिला को PCOS PCOD की बीमारी होती है. इस लेख में हम इसी बीमारी के लक्षण, कारण, उपचार के बारे में आपको जानकारी देंगे.
  • PolyCystic Ovarian Disease ( PCOD ) जिसे PolyCystic Ovarian Syndrome ( PCOS ) भी कहा जाता है, यह महिलाओ में होने वाली एक बीमारी है. इस समस्या से ग्रस्त ज्यादातर महिलाओ को पता नहीं होता है कि उन्हें यह समस्या है. महिलाओ में Hormones के असंतुलन के कारण अंडाशय ( Ovary ) में छोटी-छोटी गांठ तैयार हो जाती है जिस कारण महिलाओ के मासिक धर्म के साथ प्रजनन क्षमता पर भी असर पड़ता है. अगर समय पर PCOD का इलाज न किया जाए तो यह Cancer का रूप भी ले सकती है. महिलाओ में अंडाशय में सामान्य से अधिक मात्रा में Androgen Hormones के निर्मिति होने पर अंडाशय में छोटी-छोटी तरल पदार्थयुक्त गांठ तैयार हो जाती है जो धीरे-धीरे बढ़ने लगती है. इससे महिलाओ में प्रजनन क्षमता कम हो जाती है और महिला गर्भधारणा करने में असमर्थ हो जाती है.

  • PolyCystic Ovarian Disease ( PCOD ),
    ( PCOS ) के symptoms :

    अनियमित मासिक धर्म
    चेहरे / शरीर पर अधिक बाल
    मुंहासे
    रुसी
    पेटदर्द
    गर्भधारण में मुश्किल आना
    यौन इच्छा में अचानक कमी आना
    गर्भ में छोटी-छोटी गांठ जो Ultra Sound Scan करने पर दिखाई देती है
    बार-बार गर्भपात
    सिर के बालों का अधिक झड़ना
    त्वचा पर दाग
    मोटापा


  • Reasons of PCOS PCOD

    PCOS PCOD होने के कारण

  • असंतुलित आहार : junk food, ज्यादा तेलयुक्त, वसायुक्त और अधिक मीठा आहार।
  • रोग ( Diseases ) : PCOD होने के पीछे मधुमेह ( Diabetes ) और उच्च रक्तचाप ( Hypertension ) जैसे रोग भी एक बड़ी वजह है. अनुवांशिकता भी एक कारण है. Cholesterol का बढ़ना, HDL कम होना या उच्च Triglycerides के वजह से भी PCOD हो सकता है.
  • मोटापा ( Obesity ) : मोटापे में शरीर में बढ़ी हुई चर्बी के कारण Estrogen hormone का निर्माण सामान्य से ज्यादा होता है, जो कि अंडाशय में गांठ बनाने के लिए जिम्मेदार हो सकता है.
  • तनाव ( Stress ) : धूम्रपान, शराब, रात का खाना देर से खाना इत्यादि कारणों से भी hormonal imbalance होता है.
  • PCOS PCOD होने पर क्या करें?
  • तुरंत डॉक्टर से मिलें. इसके अलावा diabetes व thyroid टेस्ट ज़रूर करवा लें क्योंकि जो भी महिला PCOS PCOD से पीड़ित होती है उसके diabetes होने के chances बढ़ जाते हैं. और हाइ इंसुलिन लेवल के कारण ओवरीज़ ज़्यादा male हॉर्मोन्स बनाने लग जाती है – और इसकी वजह से हाई BP, हाई कोलेस्ट्रॉल व दिल की बीमारियां होने की संभावना बढ़ जाती है.

 


  • PCOS PCOD को दूर करने के घरेलू उपाय

    PCOS PCOD Dur karne ke gharelu upay

  • दालचीनी – एक टी स्पून दालचीनी का पाउडर गर्म पानी में मिलाकर पी लें. आप चाहें तो इसे अपने cereal, ओटमील, दही या चाय में मिला कर भी पी या खा सकती हैं. इसका सेवन रोज करें, जब तक आपको सुधार न दिखने लगे.
  • अलसी – 1-2 टेब्लस्पून ताज़ी पीसी हुई अलसी को पानी में मिलाकर पी लें. इसे रोजाना तब तक पिए, जब तक आपको नतीजे न मिलने लगे.
  • मेथीदाना – तीन टी स्पून मेथीदाने को पानी में 7-8 घंटे के लिए भिगो दें. फिर सुबह खाली पेट एक टी स्पून भीगा हुआ मेथीदाना शहद के साथ मिलाकर खा लें. इसी तरह से एक-एक टीस्पून लंच व डिनर के 10 मिनट पहले खा लें. इस उपाय को कुछ महीने तक करें, जब तक आपको मनचाहे नतीजे ना मिलें.
  • Apple Cider Vinegar – दो टी स्पून apple cider vinegar को एक ग्लास पानी में मिलाकर रोजाना सुबह खाली पेट व लंच और डिनर से पहले पिएं. इसे कुछ महीने करें, जब तक आपको बीमारी से छुटकारा ना मिल जाए.
  • कोई भी नुस्खा आज़माने से पहले डॉक्टर से ज़रूर सलाह लें.

 


  • क्या-क्या सावधानी बरतें इस बीमारी से छुटकारा पाने के लिए
    Savdhaniyan

  • वज़न कंट्रोल करें – वज़न ज़्यादा होने से PCOS की समस्या गंभीर हो जाती है. वज़न कम करने से androgen का लेवल व दूसरी समस्याएं भी कम होंगी और पीरियड भी नियमित रूप से आने लगेगा. अगर इसके कारण आपको pregnant होने में समस्या हो रही है तो वज़न कम करने से ये समस्या भी दूर हो सकती है, इसलिए वज़न कम करना बेहद ज़रूरी है.
  • नियमित Exercise करें – वॉक, स्विमिंग, जोगिंग, cycling etc किसी भी तरह की कसरत नियमित रूप से करें.
  • तनावमुक्त रहें – इसके लिए आप प्राणायाम व meditation भी कर सकती हैं.
  • सही लाइफस्टाइल का चुनाव करें – स्मोकिंग, alcohol, कोल्ड ड्रिंक्स, जंक फूड, caffeine… इन सभी चीजों से दूर रहे क्योकि ये शरीर को dehydrate करती हैं व दूसरे और भी नुकसान पहुंचाती है.
  • जल्दी उठें व पूरी नींद लें.
  • खान-पान का रखे ध्यान – खाने में ओमेगा 3 फेटी एसिड्स से भरपूर चीज़ें शामिल करें जैसे अलसी, फिश, अखरोट etc. अपनी डाइट में विटामिन B2, B3, B5 व B6 को शामिल करें, Whole grains, नट्स, ताज़े seasonal फल व सब्जियां अपनी रोज की डाइट में शामिल करें. दिन में 3 लीटर पानी पिएं.

 

अगर आप शायरी, कविता, कहानी आदि लिखने में सक्षम हैं. तो हमें अपनी अप्रकाशित और मौलिक रचनाएँ 25suvicharhindi@gmail.com पर भेजें.

About Abhi SuvicharHindi.Com

Hi, friends, SuvicharHindi.Com की कोशिश है कि हिंदी पाठकों को उनकी पसंद की हर जानकारी SuvicharHindi.Com में मिले. SuvicharHindi.com में आपको Hindi shayari, Hindi Ghazal, Long & Short Hindi Slogans, Hindi Posters, Hindi Quotes with images wallpapers || Hindi Thoughts || Hindi Suvichar, Hindi & English Status, Hindi MSG Messages 140 words text, Hindi wishes, Best Hindi Tips & Tricks, Hindi Dadi maa ke Gharelu Nuskhe, Hindi Biography jeevan parichay jivani, Cute Hindi Poems poetry || Awesome Kavita, Hindi essay nibandh, Hindi Geet Lyrics, Hindi 2 sad / happy / romantic / liners / boyfriend / girlfriend gf / bf for facebook ( fb ) & whatsapp, useful 1 one line rs मिलेंगे. हमारे Website में दी गई चिकित्सा सम्बन्धित जानकारियाँ / Upay / Tarike / Nuskhe केवल जानकारी के लिए है, इनका उपयोग करने से पहले निकट के किसी Doctor से सलाह जरुर लें.
Previous भगवान शिव पर कविता Poems on lord Shiva in Hindi bhagwan shiv par kavita
Next गुरु / शिक्षक पर कविता Poem on guru in Hindi Teacher par kavita lines txt guruji poetry

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!