Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content

Poem On Dreams in Hindi सपनों पर हिन्दी कविता mere sapne mera sapna short kavita :

Poem On Dreams in Hindi – सपनों पर हिन्दी कविता
सपनों पर हिन्दी कविता - Poem On Dreams in Hindi Font

Poem On Dreams in Hindi सपनों पर हिन्दी कविता

  • सपनों की परछाई
  • सपने होते हैं परछांई से,
    जितने कदम चलो उतने बढ़ते जाते हैं
    कभी खुशहली,
    तो कभी जंग वो बन जाते हैं
    छोटे से मन में,
    वो विशाल घर बनाते हैं
    जिन्दगी की हकीकत में,
    वो युद्ध छेड़ जाते हैं
    सपने हैं परछांई से,
    जितने कदम चलो उतने बढ़ते जाते हैं
    नर्मी सा एहसास,
    दिल में भर देते हैं
    कभी हकीकत बन के,
    सामने आ जाते हैं
    कभी किसी से नही करते हैं,
    वो भेद-भाव
    चाहे राजा हो या भिखा की आँखें,
    सबकी आँखों में आते हैं वो
    सपने हैं परछांई से,
    जितने कदम चलो उतने बढ़ते जाते हैं
    ऊँचाई इतनी कि,
    पल में चाँद और सूरज को छू लें
    गहराई इतनी कि,
    समुद्र की सतह में पल न लगे
    गरीब को पल में,
    अमीर वो बनाएँ
    महबूबा को पल में,
    प्रियतम से मिलाए
    सपने हैं परछांई से,
    जितने कदम चलो उतने बढते जाते हैं
    – रचना मिश्रा
  • sapanon kee parachhaee
    sapane hai parachhaanee se,
    jitane kadam chalo utane badhate jaate hai
    kabhee khushahalee,
    to kabhee jang vo ban jaate hai
    chhote se man mein,
    vo vishaal ghar banaate hai
    jindagee kee hakeegat mein,
    vo yuddh chhed jaate hain
    sapane hai parachhaanee se,
    jitane kadam chalo utane badhate jaate hain
    narmee sa ehasaas,
    dil mein bhar dete hai
    kabhee hakeegat banake,
    saamane aa jaate hai
    kabhee kisee se nahee karate hain,
    vo bhed-bhaav
    chaahe raaja ho ya bhikhaakee,
    sabakee aankhon mein aate hai
    sapane hain parachhaanee se,
    jitane kadam chalo utane badhate jaate hai
    oonchaee itanee ki,
    pal mein chaand aur sooraj ko chhoo len
    gaharaee itanee ki,
    samudr kee satah mein pal na lage
    gareeb ko pal mein,
    ameer bo banae
    mahabooba ko pal mein,
    priyatam se milae
    sapane hai parachhaanee se

.

Previous Good Night Poem in Hindi गुड नाईट पोएम इन हिंदी subh ratri kavita kavitayein poetry :
Next Slogan On Save Trees in Hindi Font पेड़ बचाओ स्लोगन ped bchao nare :

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.