Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages
Home / Biography Jivani History in Hindi / रबीन्द्रनाथ टैगोर की जीवनी Rabindranath Tagore Biography in Hindi Jeevan Parichay

रबीन्द्रनाथ टैगोर की जीवनी Rabindranath Tagore Biography in Hindi Jeevan Parichay

Rabindranath Tagore Biography in Hindi language – rabindranath tagore ka jeevan parichay in hindi – rabindranath tagore jeevan parichay in hindi – essay on rabindranath tagore in hindi – rabindranath tagore essay in hindi – essay on rabindranath tagore in hindi language – about rabindranath tagore in hindi – rabindranath tagore history in hindi – biography of rabindranath tagore in hindi – Rabindranath Tagore Biography in Hindi – rabindranath tagore information in hindi – Rabindranath Tagore Biography in Hindi – information about rabindranath tagore in hindi – rabindranath tagore nobel prize in hindi – information about rabindranath tagore in hindi language – rabindranath tagore wikipedia in hindi – information on rabindranath tagore in hindi – history of rabindranath tagore in hindi – information of rabindranath tagore in hindi – rabindranath tagore in hindi wikipedia – rabindranath tagore in hindi information Rabindranath Tagore Biography in Hindi - information about ravindranath thakur - रबीन्द्रनाथ टैगोर

 

  • रबीन्द्रनाथ टैगोर की जीवनी Rabindranath Tagore Biography in Hindi

 

  • रबीन्द्रनाथ टैगोर का जन्म 7 May 1861 को कोलकाता में एक अमीर बंगाली परिवार में हुआ था.
  • इनके पिता का नाम देवेंद्रनाथ टैगोर और माता का नाम शारदा देवी था.
  • टैगोर बचपन से हीं बहुत प्रतिभाशाली थे.
  • वे एक महान कवि, कहानीकार, गीतकार, संगीतकार, नाटककार, निबंधकार तथा चित्रकार थे.
  • उन्हें कला की कोई औपचारिक शिक्षा नहीं मिली थी.

  • उनकी प्रारम्भिक पढ़ाई सेंट ज़ेवियर स्कूल में हुई.
  • वे वकील बनने की इच्छा से लंदन गए, लेकिन वहाँ से पढ़ाई पूरी किए बिना हीं वापस लौट आए.
  • उसके बाद उन्होंने घर की जिम्मेदारी सम्भाल ली.
  • उन्हें प्रकृति से बहुत लगाव था. उनका मानना था कि विद्यार्थियों को प्राकृतिक माहौल में हीं पढ़ाई करनी चाहिए.
  • वे गुरुदेव के उपनाम से प्रसिद्ध हो गए.
  • वे एकलौते ऐसे कवि हैं, जिनकी लिखी हुई दो रचनाएँ दो भारत और बांग्लादेश का राष्ट्रगान बनी.
  • उनकी ज्यादातर रचनाएँ आम आदमी पर केन्द्रित है. उनकी रचनाओं में सरलता है, अनूठापन है, और दिव्यता है.
  • उन्होंने भारतीय सांस्कृति में नई जान फूंकने में अहम भूमिका निभाई.
  • 1883 में मृणालिनी देवी के साथ उनका विवाह सम्पन्न हुआ.
  • उन्होंने अपनी पहली कविता 8 साल की छोटी आयु में हीं लिख डाली थी.

  • जब उनकी रचनाओं का अंग्रेजी में अनुवाद होने लगा, तब पूरी दुनिया को उनकी प्रतिभा के बारे में पता चला.
  • प्रकृति प्रेमी टैगोर ने पेड़-पौधों की आंचल में शान्तिनिकेतन की स्थापना की.
  • शांति निकेतन को सरकारी आर्थिक सहयोग मिलना बंद कर दिया गया. और पुलिस की काली सूचि में इसका नाम डाल दिया गया. तथा वहाँ पढ़ने वाले विद्यार्थियों के अभिभावकों को धमकी भरी चिट्ठियाँ भेजी जाने लगी.
  • ब्रिटिश मिडिया ने अनमने ढंग से कभी टैगोर की प्रसंशा की तो कभी तीखी आलोचना की.
  • इस महान रचनाकार ने 2,000 से भी ज्यादा गीत लिखे.
  • 1919 में हुए जलियाँवालाबाग हत्याकांड की टैगोर ने जमकर निंदा की. और इसके विरोध में उन्होंने अपना “सर” का ख़िताब लौटा दिया. इस पर अंग्रेजी अख़बारों ने टैगोर की बहुत निंदा की.
  • टैगोर की कविताओं को सबसे पहले विलियम रोथेनस्टाइन ने पढ़ा और ये रचनाएँ उन्हें इतनी अच्छी लगी कि उन्होंने पश्चिमी जगत के लेखकों, कवियों, चित्रकारों और चिंतकों से टैगोर का परिचय कराया
  • क़ाबुलीवाला, मास्टर साहब और पोस्टमास्टर ये उनकी कुछ प्रमुख प्रसिद्ध कहानियाँ है.

  • उनकी रचनाओं के पात्र रचना खत्म होने तक में असाधारण बन जाते हैं.
  • उन्होंने अपने जीवन के उतरार्ध में चित्र बनाने शुरू किए, और उनकी कलाकृति भी उत्कृष्ठ थी.
  • ईश्वर ने उन्हें इतनी प्रतिभा दी थी, जो वह बहुत कम लोगों को देता है.
  • 1902 तथा 1907 के मध्य में उनकी पत्नी और 2 संतानों की मृत्यु का दर्द इसके बाद की रचनाओं में साफ झलकता है.
  • टैगोर और महात्मा गान्धी के बीच में हमेशा वैचारिक मतभेद रहे, इसके बावजूद वे दोनों एल-दूसरे का बहुत सम्मान करते थे.
  • उन्होंने जीवन की हर सच्चाई को सहजता के साथ स्वीकार किया और जीवन के अंतिम समय तक सक्रिय रहे.
  • 7 अगस्त 1941 को यह महान व्यक्तित्व इस संसार को छोड़कर चला गया.
  • रविन्द्रनाथ टैगोर की 6 कविता ||| Rabindranath tagore poems in hindi 

 

Related Posts

About Abhi SuvicharHindi.Com

Hi, friends, SuvicharHindi.Com की कोशिश है कि हिंदी पाठकों को उनकी पसंद की हर जानकारी SuvicharHindi.Com में मिले. SuvicharHindi.com में आपको Hindi shayari, Hindi Ghazal, Long & Short Hindi Slogans, Hindi Posters, Hindi Quotes with images wallpapers || Hindi Thoughts || Hindi Suvichar, Hindi & English Status, Hindi MSG Messages 140 words text, Hindi wishes, Best Hindi Tips & Tricks, Hindi Dadi maa ke Gharelu Nuskhe, Hindi Biography jeevan parichay jivani, Cute Hindi Poems poetry || Awesome Kavita, Hindi essay nibandh, Hindi Geet Lyrics, Hindi 2 sad / happy / romantic / liners / boyfriend / girlfriend gf / bf for facebook ( fb ) & whatsapp, useful 1 one line rs मिलेंगे. हमारे Website में दी गई चिकित्सा सम्बन्धित जानकारियाँ / Upay / Tarike / Nuskhe केवल जानकारी के लिए है, इनका उपयोग करने से पहले निकट के किसी Doctor से सलाह जरुर लें.
Previous 4 बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कविता || Beti Bachao Poems in Hindi padhao Kavita
Next बिहारी के 11 दोहे अर्थ सहित – Bihari Ke Dohe in Hindi Language Meaning Summary

44 comments

  1. palak daga

    thanks to this jivani

  2. Anonymous

    Good thk u

  3. Akash Kumar Mauro

    Nice thoughtful person

  4. Arun Kumar

    Nice job it is helping in my project.

  5. Akash Kumar

    Thank you very much for your help I wish you. You are very helpful.

  6. Yo

    Hai
    is it madhavi miss
    working at markaz

  7. shisham

    Nice job

  8. bikash

    nice

  9. Anonymous

    it help me a lot in my project task

  10. Anonymous

    This is really helpful for doing H.H.W

  11. Adesh kumar

    Very nice 😊 and helpfull….🙆👌💃

  12. Priyanka Talukdar Debnath

    Vlo pothe chola manushdr onk ksto…..robi dadur jibon tao ksto tei gche. ….kntu she kndno krr khti ba osomman kreni. ….thakur dadur moto manush jeno. …abr jonmo hok

  13. Anonymous

    Comment:nice

  14. Abhishek Digal

    Its really helped in my school project, thank you

  15. Tamanna sharma

    Mhan hasti – thankyou for helping in my h.w thanku so much

  16. MOHD hasan ahmad

    It’s very nice

  17. Taabin khan

    Inspiring person

  18. swati

    Thank…..s

  19. Gauranshika

    Very nice biography n help in holiday homework

  20. Madhavi

    Helpful

  21. Rashi

    His thoughts is very good and he is very nice person

  22. Anonymous

    #ithelpedalot #thankyou

  23. Shreya Amrit Sharma

    Nice biography…… In short sweet.👍👌 Helpful😊

  24. pavan

    Very nice

  25. Teja

    It is very nice and very inspiration

  26. Manmatha & Sunil

    Thank you for helping us to motivate the students in Hindi seminar

  27. Tannya

    Thanks for helping me in project

  28. Anonymous

    helping in project

  29. shubi bharaj

    Helping in studies thankuuu so much

  30. shubi bharaj

    It was really very helpful for me to giving a speech …. Thankuuu

  31. SHINO P THOMAS

    heip in studies

  32. SHINO P THOMAS

    help in home work

  33. Prince

    Nice greatest person

  34. GOVARDHAN

    Nice work

  35. Riya

    Helping is studies and homework a lot
    Thanks……..

  36. Praju

    Very nice person

  37. sameer

    very helpful to my homework
    thanks…

  38. jassi

    Help in home work very much

  39. Anushka Ajmera

    Gracias

  40. Nikita

    Thankyou

  41. Nikita

    Thanks……….ssss:-)

  42. bhavnish

    very very very helpful for us because today i am 18 years old and in today’s date i knew nothing about him
    thank yu suvichar.com

  43. Anonymous

    thanks a lot

  44. TASKEENAHMAD

    Very niceeeeeee /helpful

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!