Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content

दर्द भरी कविता – Sad Poems in Hindi That Make You Cry :

Sad Poems in Hindi That Make You Cry
Sad Poems in Hindi That Make You Cry

दर्द भरी कविता – Sad Poems in Hindi That Make You Cry

  • ” बेवफ़ा वक़्त “
    न तुम्हें अब सोच पाता हूँ,
    न तुम्हें अब लिख पाता हूँ
    तुम्हारी यादें आती तो है,
    पर, एक बुरे लम्हे से टकरा कर लौट जाती है
    ऐसे ही पड़े रहते हैं वीरान कागज,
    कलम भी तेरा नाम लिखने से पहले ही रो देती है.
    स्नेह का सागर सामने तेरे रख दी थी मैंने,
    तुम भींग कर भी, महसूस इसे न कर सके.
    तुम मंजरी सी दिखती थी और मैं बस तुम्हें निहारता रहता था,
    पर तुम आँखों की आवाजों को न कभी सुन सके.
    कभी झूठे तो कभी सच्चे लगते हो तुम,
    आदतों से तो कभी पूरे बच्चे लगते हो तुम.
    पहली बार जब तुम्हें देखा तो तुम बेदाग़ लगे थे,
    हकीकत जब पता चला तो मेरे दिल को बड़े आघात लगे थे.
    फिर भी यकीं मानो प्यार अभी भी तुमसे पहले जैसा है,
    तेरी खता के बाद भी फुर्सत नहीं मिलती तेरी यादों से,
    न जाने ये दिल मेरा कैसा है?
    बस एक बात बता दो फरेब करना कैसे तुमको आ गया??,
    भूल कर हमको कैसे तुमको जीना भा गया??
    – हिमांशु शर्मा “हेमु”
  • मेरे जज्बात
    फूटे हुए मटके में, अब मैं जज्बात भरती हूं,
    भरता नहीं है ये, मैं कोशिश हर बार करती हूं
    घिर गए अब बादल, गहरे काले घने
    इस तेज बारिस में उड़ने को,   नीला आकाश तकती हूं |
    मैं कोशिश हर बार करती हूं
    आधार है अब खुरदरा, स्तम्भ है हिला हुआ,        
    साहसों के ढोल पर, नर्तन हर बार करती हूं,
    मैं कोशिश हर बार करती हूं
    छुई-मुई के पेड़ से, हालात हैं हमारे
    मुश्किलों की छुअन से,
    अब मैं सहमती हूं
    मैं कोशिश हर बार करती हूं
    ‘लेकिन’ भरते- भरते एक दिन,
    इन दरारों को भर ही देंगे
    उड़ जाएँगे बादल, उड़ान भर ही लेंगे
    आधार को समतल, और स्तम्भ को मजबूत करेंगे
    और इस ढोल की थाप को, आनदं से सुनेंगे
    भरते- भरते इन दरारों को, भर ही देंगे |
    – रचना मिश्रा

.

Previous बारिश पर 3 कविता || Poem On Barish in Hindi font first rain barsat kobita :
Next latest Poem in Hindi लेटेस्ट क्यूट कविता || Cute Poem in hindi innocent kavita long :

7 comments

  1. Unknown

    Good keep it up.lovely.

  2. Anonymous

    बहुत-बहुत धन्यवाद
    आपका बहुत बहुत शुक्रिया

  3. Name: Narayan Rohin

    thanks sir……

  4. deepank tiwari

    nce poems….

  5. narendra gond

    So nic story bhai jaan

  6. Shivani Khantwal

    कुछ लफ्ज़ ऐसे होते हैं जो दिल में घर कर जाते हैं. और शायद ज़िन्दगीभर के लिए याद रह जाते हैं. आज आपकी ”बेवफा वक़्त” की कविता पढ़ कर इतने दिनों बाद अपने आँखों से आंसू निकलते हुवे महसूस हुवे. मैं हिमांशु शर्मा को धन्यवाद देती हु इतनी सुंदर कविता की रचना करने के लिए. बहुत विरले ही ऐसे लोग होते हैं जो जब कलम पकड़ते हैं तो उसे सिर्फ हाथ से नहीं बल्कि दिल से पकड़ते हैं और उनके जज़्बात उस कागज़ पर लिखते ही चले जाते हैं. और कुछ हम जैसे भी होते हैं जो उन लफ्जों को पढ़ कर उनकी गहराइयो में खुद को कही ना कही खोज ही लेते हैं. फिर से आपका धन्यवाद करती ह… 🙂 ऐसी कविताए लिखते रहिएगा.

  7. HindIndia

    बहुत ही बढ़िया poem है। …. Thanks for this!! 🙂

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.