Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content

Sad Poetry in Hindi Language सैड पोएर्टी इन हिंदी फॉन्ट क्या करूँ बता ऐ ज़िन्दगी :

Sad Poetry in Hindi Language सैड पोएर्टी इन हिंदी फॉन्ट sad poetry in hindi language

Sad Poetry in Hindi Language सैड पोएर्टी इन हिंदी फॉन्ट क्या करूँ बता ऐ ज़िन्दगी

  • क्या  करूँ  बता   ऐ ज़िन्दगी
    • मेरा  वजूद  यूँ  मिटा  जा  रहा  क्या  करूँ   बता   ऐ ज़िन्दगी …२
      न  मैं  हु  न  है  अब  कोई , क्या  करूँ   बता   ऐ ज़िन्दगी ..
      बचपन  न  मिला  न  मिली  जवानी , क्या  करूँ   बता   ऐ ज़िन्दगी ..
      मेरा  वजूद   यूँ  मिटा  जा  रहा  क्या  करूँ   बता   ऐ ज़िन्दगी …
      क्यू  तोड़  दिए  सपने  मेरे  , क्यू   छोड़ गए  अपने  मेरे  क्या  करूँ   बता   ऐ ज़िन्दगी …
      मेरा  वजूद  यूँ  मिटा  जा  रहा  क्या  करूँ   बता   ऐ ज़िन्दगी ….
      लड़का  नहीं  पर  हु  इंसान , लड़का  नहीं  पर  दिल  सच्चा …
      किसको  समझौ  ये  ऐ  ज़िन्दगी …क्या  करूँ   बता   ऐ ज़िन्दगी …
      गलती  हुई  सजा  दो  मुझे , हर  ज़ख्म  दो  पर  यूँ  न  बांधो  मुझे ..
      डैम  घुट  ता  है  इस  अँधेरे  में  क्या  करूँ   बता   ऐ ज़िन्दगी …
      क्या  कह  किस्से  कोण  सुनेगा  मेरी  एक  पठार  है  जो  सुनता  मेरी ..
      पर  वो  भी  क्या  अब  कर  लेगा  जो  चलता  है  वो  चला  आ  रहा ….
      ऐ  ज़िन्दगी  अब  छोर  दे  मुझे …. रुक  जा  यही  अब  बक्श  दे  मुझे …
      मेरा  वजूद  यूँ  मिटा  जा  रहा  क्या  करूँ   बता   ऐ ज़िन्दगी …
      – आँचल वर्मा
  • क्योंकि  लड़की  हूँ  मैं
सफलता  के  इस  दौर  में  असफल  हु  मैं  क्योंकि  लड़की  हूं  मैं ….
पंख  मिल  गए  उड़ने  को  पर  अब  भी  पिंजरे  में  हूं  क्योंकि  लड़की  हूँ  मैं ….
जागना  चाहती   हूँ   मैं   पर  सुला  दिया  गया  क्योंकि  लड़की  हूं  मैं…
चलना  चाहती  हु  पर  गिरा  दिया  गया  क्योंकि  लड़की  हूं  मैं …
अपनी  नज़रो  से  नहीं  किसी  और  कि नज़रो  से  चलती  है  मेरी  ज़िन्दगी  क्योंकि  लड़की  हूं  मैं 
हर  घर  पराया  ह  अपना  नहीं  क्योंकि लड़की  हूँ  मैं 
पर  अब  बस :
असफलता  को  सफलता  मैं  बनाउंगी  क्योंकि  लड़की  हूं  मैं 
पिंजरे  से  निकल  कर  खुले  आसमान  में  उड़ जाउंगी  क्योंकि  लड़की  हूं  मैं
कुछ  बनना  चाहती  हूँ  , बनूँगी  और  बन  कर  दिखाउंगी  क्योंकि  लड़की  हूं  मैं
अपनी  नज़रो  से  ज़िन्दगी  बनाउंगी  क्योंकि  लड़की  हूँ  मैं
अपना  खुद  का  घर  बनाउंगी  क्योंकि  लड़की  हूँ  मैं ….लड़की  हूँ  मैं … क्योंकि  लड़की  हूँ  मैं …..**
– आँचल वर्मा

,

Previous 15 फीलिंग अलोन कोट्स हिंदी में – Feeling Alone Quotes in Hindi :
Next स्वच्छ भारत अभियान स्लोगन – Swachh Bharat Abhiyan Slogan in Hindi :

3 comments

  1. swati

    9ce poetry
    I love this poetry

  2. Deepak

    Nice one

  3. Tanveer

    Superb…..maza aa gaya padhkar

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.