Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content

31 बाप बेटी शायरी || Baap Beti Shayari Hindi shayari on father & daughter :

shayari on father and daughter in hindi – baap beti shayari hindi – बाप बेटी शायरी 31 बाप बेटी शायरी || Baap Beti Shayari Hindi shayari on father & daughter

बाप बेटी शायरी || Baap Beti Shayari Hindi shayari on father & daughter

 

  • पूरे घर की जान होती है बेटियाँ,
    दो कुलों की मान होती है बेटियाँ.
  • अपने शौक को दबा कर जीना सीख जाती हैं,
    ना जाने बेटियाँ ये हुनर कहाँ से लाती हैं.
  • अपनी बेटी के कन्यादान का सपना हर रोज देखता था जो पिता,

    फूट-फूट कर रोया था वो, जब वही सपना पूरा होने को आया.

  • ना कोई गाड़ी, ना कोई बंगला चाहिये,
    बस सलामत रहे माँ-बाप, ऐसी दुआ चाहिये.
  • नन्ही सी परी को उसने गोद में खिलाया होगा,
    हर दुःख-दर्द से उसे बचाया होगा,
    ना जाने कितने आंसुओं को दफन कर,
    उसके पिता ने कन्यादान का फर्ज निभाया होगा.
  • अपनी जरूरतों को नजरअंदाज करके अक्सर
    हमारी ख्वाइशों को पूरी करते हैं पापा.
  • अपने बच्चों का बोझ वो कंधे पे उठा लेता है,
    वो बाप है साहेब, बच्चों के लिये हर गम उठा लेता है,
  • बेटी को पढ़ा-लिखा कर काबिल बनाया है,
    इस तरह एक बाप ने उसे आत्मसम्मान दिलाया है.
  • मेरे लिये वो दुनिया से लड़ जाते हैं,
    पिता बच्चों के लिए कुछ भी कर जाते हैं.
  • अपने बच्चों को हर खुशी वो देता है,
    वो बाप है साहेब बस बच्चों के लिए हीं सांसे लेता है.
  • पिता की जान होती है बेटियाँ,
    पिता का अभिमान होती है बेटियाँ.
  • सब सुख एक तरफ है,
    माता-पिता की मुस्कान एक तरफ है.
  • अपनी सारी कमाई अपने बच्चों पर लगा कर खुश हो जाता है,
    वो पिता है अपने बच्चों को खुश देखकर हीं खुश हो जाता है.
  • माँ ममता की मूरत है,
    पापा त्याग की सूरत है.
  • चिड़ियों सी चहकती रहती है बेटियाँ,
    मायके में जब तक रहती है बेटियाँ.
  • हर बात में नखरे करती हैं बेटियाँ,
    जब तक पिता के घर में रहती हैं बेटियाँ.
  • पापा की हर तकलीफ को वो भाँप लेती है,
    बेटियां पापा के सुख-दुःख को जान लेती है.
  • बेटी है तो आज है, बेटी है तो कल है.
  • मेरे हँसी के पीछे का गम वो जान लेते हैं,

    पिता हैं वो, इसलिए मेरे दिल की हालत पहचान लेते हैं.

  • बेटी हूँ मैं, मेरी बस इतनी कहानी है
    मेरी दुनिया माँ से शुरू, और पिता पे खत्म है.
  • मैंने पापा से दुनियादारी सीखी है,
    शायद इसलिए मैं धोखे और फरेब से दूर हूँ.
  • पापा के दुःखो को बाँटती है बेटियाँ,
    इस तरह सन्तान होने का फर्ज निभाती है बेटियाँ.
  • चिलचिलाती धूप में जब भी मुझे छांव की तलाश होती है
    तो मेरी बेचैन नजरें बस मेरे पिता को खोजती हैं.
  • हर पिता का बेटी से दिल का रिश्ता होता है,
    तभी तकलीफ बेटी को हो, तो दर्द पिता को होता है.
  • तुम आँखों से अपनी तकलीफ कहना पापा
    मैं आँखों से तुम्हारा हर दर्द समझ लूंगी पापा.
  • अपनेपन का पाठ वो सिखाते हैं,
    आखिर पिता हैं वो……
    इसलिए बस प्यार की बात वो बताते हैं.
  • अपने बच्चों को दो वक्त की रोटी के लिये, दिन-रात मेहनत करता है,
    वो पिता है साहेब, बच्चों को पालने के लिये, जीता-मरता है।
  • बेटों से बिल्कुल कम नहीं होती है बेटियाँ,
    ये बात, पापा हरदम बताते हैं,
    इसलिए वो, बेटे-बेटी में भेद नहीं कर पाते हैं.
  • बेटे पापा की “जायदाद” बाँटते हैं,
    और बेटियाँ पापा की “तकलीफ” बाँटती है.
  • बेटी की हर ख्वाइश पूरी नहीं होती,

    फिर भी बेटियाँ कभी अधूरी नहीं होती।

.

About Suvichar Hindi .Com ( Read here SEO, Tips, Hindi Quotes, Shayari, Status, Poem, Mantra : )

SuvicharHindi.Com में आप पढ़ेंगे, Hindi Quotes, Status, Shayari, Tips, Shlokas, Mantra, Poem इत्यादि|
Previous बहन के जन्मदिन पर कविता || Birthday Poems for Sister in Hindi bhai bahan :
Next गरीबी पर कविता || Poem On Poverty in Hindi – Garibi Par Kavita poetries :

One comment

  1. Rgp

    Heart touched

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.